जिलाधिकारी के निर्देशन में विभिन्न विभागों के सहयोग से जरूरतमंद लोगों तक घर-घर संपर्क कर पहुंचाई जा रही आइवर्मेक्टिन दवा - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Thursday, 27 August 2020

जिलाधिकारी के निर्देशन में विभिन्न विभागों के सहयोग से जरूरतमंद लोगों तक घर-घर संपर्क कर पहुंचाई जा रही आइवर्मेक्टिन दवा

कैलाश सिंह विकास वाराणसी

जिलाधिकारी के निर्देशन में विभिन्न विभागों के सहयोग से जरूरतमंद लोगों तक घर-घर संपर्क कर पहुंचाई जा रही आइवर्मेक्टिन दवा

वाराणसी, 26 अगस्त 2020
*जिलाधिकारी श्री कौशल राज शर्मा* के निर्देशन में स्वास्थ्य विभाग के साथ ही साथ अन्य विभागों द्वारा घर-घर संपर्क कर कोरोना पॉजिटिव मरीजों के साथ ही साथ उनके संपर्क में आने वाले व्यक्तियों, कोविड-19 के अंतर्गत विभिन्न विभागों में कार्य करने वाले फ्रंट लाइन वर्कर तथा चिकित्सीय परामर्शनुसार जिन्हें आइवर्मेक्टिन दवा खाने की सलाह दी गयी है, उनको प्रतिदिन आइवर्मेक्टिन की दवा वितरित की जा रही है। इस अभियान के लिए स्वास्थ्य विभाग के साथ ही आपूर्ति विभाग, सिविल डिफेंस, आईसीडीएस एवं शिक्षा विभाग तथा अन्य विभागों को दवा वितरण के कार्य में लगाया गया है। जिलाधिकारी ने सभी विभागों को निर्देशित किया कि ऐसे सभी व्यक्ति जिन्हें आइवर्मेक्टिन की दवा खानी है, उन तक इस दवा की खुराक समय से अवश्य पहुँच जाए। पॉज़िटिव मरीजों के घर इस दवा की खुराक पहुँचने में किसी भी स्थिति में विलंब नहीं होना चाहिए। 
उल्लेखनीय है कि विगत दिवस तक जनपद के कुल 75,588 जरूरतमंद व्यक्तियों को लगभग 6.04 लाख आइवर्मेक्टिन की दवा वितरित की जा चुकी है तथा वितरण का कार्य आगे भी जारी है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा ग्रामीण एवं शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के माध्यम से अभी तक 53,427 जरूरतमंद व्यक्तियों को 4.27 लाख आइवर्मेक्टिन की दवा वितरित की गयी। इसके अतिरिक्त *अपर जिलाधिकारी (आपूर्ति) श्री नलनीकान्त* के निर्देशन में विगत दिवस तक आपूर्ति विभाग द्वारा 3,161 जरूरतमन्द व्यक्तियों को 22,288, सिविल डिफेंस विभाग द्वारा 11,563 को 92,504 और अन्य विभागों द्वारा 7,437 को 59,496 आइवर्मेक्टिन की दवा वितरित की जा चुकी है।  
*मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ वीबी सिंह* ने बताया कि जरूरतमंद व्यक्तियों को आइवर्मेक्टिन की दवा घर-घर जाकर वितरित की जा रही है। यह दवा दो वर्ष से नीचे के बच्चों एवं गर्भवती व धात्री महिलाओं को नहीं देनी है। यदि कोई व्यक्ति गंभीर रूप से बीमार है तो वह चिकित्सीय परामर्श के अनुसार ही इस दवा का सेवन करे।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।