लाइन हनियो के गलत आंकड़ो के आधार पर वितरण निगमो का निजीकरण नही होगा बर्दास्त । - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Sunday, 6 September 2020

लाइन हनियो के गलत आंकड़ो के आधार पर वितरण निगमो का निजीकरण नही होगा बर्दास्त ।

कैलाश सिंह विकास वाराणसी



 लाइन हनियो के गलत आंकड़ो के आधार पर वितरण निगमो का निजीकरण नही होगा बर्दास्त । 

 निजीकरण के विरोध में चलाए जा रहे संघर्ष के कार्यक्रम को सीटू (भारतीय ट्रेड यूनियन केंद्र), केरल स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड के बिजली कर्मचारियों , असम इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड के बिजली कर्मचारियों एवं पेंशनर्स ने समर्थन दिया |


 वाराणसी:- 5सितम्बर।  विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले वाराणसी के समस्त अभियंताओं एवं बिजलीकर्मियों ने आज चौथे दिन भी सायं 4 बजे से 5 बजे तक प्रबंध निदेशक कार्यालय के बाहर किया जोरदार विरोध  प्रदर्शन।

वक्ताओ ने बताया कि बिजली विभाग का निजीकरण एक व्यवस्था नहीं बल्कि पुनः रियासतीकरण किए जाने का कुत्सित प्रयास है, निजीकरण की आड़ में पुनः देश की सारी संपत्ति देश के चंद पूंजीपति घरानों को सौंप देने की गलत चाल चली जा रही है | संघर्ष समिति ने सरकार पर आरोप लगाया कि लाइन हानियों के गलत आंकड़ों के आधार पर पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड का निजीकरण एक साजिश, एक घोटाले के तहत सुनियोजित तरीके से किया जा रहा है | प्रबंधन द्वारा बिजली विभाग को ठीक से काम नहीं करने दिया जा रहा है, फिर इन्हें बदनाम करो, जिससे निजीकरण करने पर कोई बोले नहीं फिर धीरे से अपने आकाओं को बेच दो जिन्होंने चुनाव में भारी भरकम खर्च की फंडिंग की है | संघर्ष समिति ने अब इस कार्यक्रम को जन आंदोलन में बनाने की तैयारी कर रही है एवं सरकार को अहसास कराया जाएगा कि वह अपनी जिम्मेदारियों से भागे नहीं और सरकारी संपत्तियों को बेचे नहीं | अगर कहीं घाटा है तो इसका सिर्फ और सिर्फ सरकार की गलत नीतियों के कारण है | *आज निजीकरण के विरोध में चलाए जा रहे संघर्ष के कार्यक्रम को सीटू (भारतीय ट्रेड यूनियन केंद्र), केरल स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड के बिजली कर्मचारियों , असम इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड के बिजली कर्मचारियों एवं पेंशनर्स ने समर्थन दिया |*

 सभा को सर्वश्री ई0 चंद्रेशखर चौरसिया,ई0 सुनील कुमार, अमित त्रिपाठी, आर0के0 वाही, ए0के0 श्रीवास्तव,ई0 संजय भारती, राजेन्द्र सिंह, डॉ0 आर0बी0 सिंह, मायाशंकर तिवारी, रमन श्रीवास्तव, राम कुमार,हेमन्त श्रीवास्तव, रमाशंकर पाल, जगदीश पटेल, वीरेंद्र सिंह,मदन श्रीवास्तव, जिउतलाल,अंकुर पाण्डेय, विजय वर्मा, महेंद्र कुमार मौर्य, राम जी भारद्वाज, लालब्रत प्रजापति, जमुना पाल, संतोष कुमार वर्मा ,आदि वक्ताओं ने संबोधित किया।


    

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।