Gonda-प्रधानमंत्री आवास न मिलने से जर्जर खपरैल छोड़ फूस की झोपड़ी में रहने को मजबूर ग्रामीण - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Monday, 23 November 2020

Gonda-प्रधानमंत्री आवास न मिलने से जर्जर खपरैल छोड़ फूस की झोपड़ी में रहने को मजबूर ग्रामीण



राकेश सिंह 

गोण्डा 

हकीकत गाँव की योजनाएं से वंचित दिखे कुछ परिवार ।
गोण्डा :सरकार चाहे जितने दावे कर ले इसी गरीब किसान असहाय को आवास शौचालय पेंशन सहित अन्य प्रकार की लोककल्याणकारी योजनाए संचालित कर रही है ताकि हर गरीब परिवार को आवास  ,निःशुल्क अनाज  सहित अन्य सहायता मिले ताकि वह फुस की झोपड़ी में न रहकर उसका परिवार छत के नीचे रहकर अपने परिवार को उत्तम भोजन शिक्षा विजली की रोशनी में रहकर अपना जीवन यापन कर सके अपने बच्चे को आगे बढ़ा सकें ताकि गाँव क्षेत्र विकास करे   लेकिन सरकार द्वारा संचालित लोककल्याणकारी योजनाए सेअभी तक वंचित  है पात्र परिवार ।गाँव के विकास की हकीकत देखने जब तहकीकात की टीम  विकासखण्ड बभनजोत स्थित ग्रामसभा ढढूवा कुतुबजोत में गयी तो कुछ घर ऐसे मिले जो फुस की झोपड़ी में अपने परिवार के साथ रहते हुए मिले जब हमने सच्चाई जानना चाहा तो शीला देवी पत्नी घमालु व मीरा देवी पत्नी राम प्रकाश ने बताया कि हम कई वर्षों से इसी फुस की झोपड़ी में अपना परिवार लेकर हर मौसम में गुजार रहे है जबकि हमारा  आवास सूची में नाम भी है लेकिन अभी तक आवास नही मिल पाया ।जब इस बारे में सम्बन्धित ग्राम पंचायत अधिकारी योगेन्द्र कुमार से बात किया गया तो उन्होंने कहा कि आवास पात्रता सूची में नाम इन लोगो का है लेकिन आवास का लक्ष्य कम होने के नाते नही मिल पाया अगले लक्ष्य में आते ही सीघ्र  आवास उपलब्ध कराया जाएगा ।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।