बलिया: होम्योपैथ में है कई बीमारियों की कारगर दवाएं: डॉ एस.के वर्मा - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Wednesday, 23 December 2020

बलिया: होम्योपैथ में है कई बीमारियों की कारगर दवाएं: डॉ एस.के वर्मा

बलिया /सिकन्दरपुर (माइकल भारद्वाज)-

 होम्योपैथ में है कई बीमारियों की कारगर दवाएं: डॉ एस.के वर्मा


बदलते मौसम और कड़ाके की ठंड के बीच जनजीवन व्यस्त हो गया है ।ऐसे में कई तरह की बीमारियों के फैलने का खतरा भी बढ़ गया है।

खास करके ठंड लगने से कॉमन कोल्ड डायरिया का खतरा और भी ज्यादा बढ़ गया है ।सर्दी जुकाम ,खांसी होना इस सीजन में आम बात है। यह बातें कही हैं सिकन्दरपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत डॉ एस.के वर्मा ने।

उन्होंने बताया कि इस सर्दियों का मौसम चल रहा है और हम लोग कोरोना काल में जी रहे हैं। पूरी दुनिया में अभी तक इस बीमारी का कोई ठोस उपचार नहीं हो सका है। बढ़ती ठंड से कोल्ड डायरिया होने की भी आशंका बढ़ जाती है इसलिए हमें ठंड से ज्यादा से ज्यादा बचने की आवश्यकता है ।इस मौसम में सर्दी जुखाम होना आम बात है ।होम्योपैथ में भी इन बीमारियों की दवा हमारे अस्पताल के होम्योपैथ विभाग में मौजूद है।

 जिन लोगों को अंग्रेजी दवा सूट नहीं करती वह हमारे होम्योपैथ विभाग से आकर दवा ले सकते हैं।

हमारे यहां स्किन एलर्जी को प्रभावी रूप से ठीक करने वाली दवाई उपलब्ध है और यह सारी दवाएं निःशुल्क है। 

एक दैनिक अखबार में मरीजों से पैसा लेने की छपी खबर को संज्ञान में लेते हुए उनसे पूछा जाने को बताया कि मेरे संज्ञान में ऐसी कोई बात नहीं है ।यहां सिर्फ ₹1 पर्ची का लिया जाता है जो कि सरकारी नियम के तहत है। 

होम्योपैथ विभाग में इलाज कराने आई नगर के मोहल्ला बढ्डा निवासी बचनी देवी पत्नी रमाशंकर वर्मा ने बताया कि मैं यहां पर बहुत दिनों से इलाज करवा रही हूं, परंतु मुझसे आज तक किसी भी तरह के अधिक पैसे का डिमांड नहीं किया गया जो पर्ची का ₹1 होता है सिर्फ वही पैसा मुझ से मांगा गया।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।