वैचारिक मतभेद के चलते अलग हो रहे पति पत्नी पुलिस ने पुनः मिलाया - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News

आज का Tahkikat

Friday, 4 June 2021

वैचारिक मतभेद के चलते अलग हो रहे पति पत्नी पुलिस ने पुनः मिलाया

मोहित गुप्ता बस्ती रूधौली

वैचारिक मतभेद के चलते अलग हो रहे पति पत्नी पुलिस ने पुनः मिलाया

रुधौली थाने पर आवेदिका व उसके पति के बीच पुलिस ने दूर कराई भ्रांतियां व मनमुटाव

बस्ती रुधौली।  वैवाहिक जीवन में कई बार पति पत्नी के बीच आपसी समझ भतार में ठीक से ना बैठ पाने के कारण रिश्ते टूट जाया करते हैं। लेकिन जब टूटते रिश्ते के बीच कोई फरिश्ता बनकर आ जाता है और दोनों की भ्रांतियां हुआ मनमुटाव दूर कर उन्हें एक कर देता है तो उसे फरिश्ता कहा जाता है और इसी फरिस्तागी की एक मिसाल गुरुवार को रुधौली पुलिस ने थाने पर पेश की।
      पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार आपसी वैचारिक मतभेद के कारण आवेदिका उर्मिला पत्नी महेंद्र कुमार निवासी नकहा थाना रुधौली जनपद बस्ती का अक्सर उसके पति के साथ विवाद होता रहता था। कई बार विवाद के बीच दोनों परिवारों के मान मनौव्वल के बाद रिश्ते जुडे लेकिन फिर किसी न किसी कारण उस में दरार पड़ी जाती। आखिरकार उर्मिला ने अपने पति से संबंध विच्छेद करने का फैसला ले लिया एवं गुरुवार को इसकी गुहार लेकर थाने पहुंची थी।
          मामला पति-पत्नी के आपसी विवाद का देख प्रभारी निरीक्षक शिवाकांत मिश्रा द्वारा उसके पति महेंद्र कुमार को थाने पर बुलाया गया। यहां मौजूद महिला व पुरुष पुलिस टीम के द्वारा पति-पत्नी के कलह को दूर कर एक साथ रहने को राजी कर परिवार को मिलाया गया, जिसके बाद उर्मिला व महेंद्र ने हंसी खुशी से एक दूसरे को मिठाई खिलाकर अपनी गलतियों पर माफी मांगी व एक साथ रहने को राजी हुए। और आखिर में अपने भरे पूरे परिवार के साथ वापस घर चले गए। इस दौरान प्रभारी निरीक्षक शिवाकांत मिश्रा, अजय सिंह यादव, चन्द्रकेश प्रजापति, राकेश तिवारी, मो० सलीम अहमद , महिला आरक्षी प्रेम शिखा मिश्रा ने दोनों परिवारों को टूटने से बचाने में अहम भूमिका निभाई।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।