एंबुलेंस के साथ कर्मचारियों ने दिया धरना - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News

आज का Tahkikat

Monday, 26 July 2021

एंबुलेंस के साथ कर्मचारियों ने दिया धरना

अरविन्द शर्मा  कानपुर देहात 

एंबुलेंस के साथ कर्मचारियों ने दिया धरना

कानपुर देहात। प्रदेश सरकार स्वास्थ्य व्यवस्थाओ में सुधार के लिये लगातार कवायद कर रही है । वही एम्बुलेंस कर्मचारियों के द्वारा हड़ताल करने से स्वास्थ्य व्यवस्था चरमराती नजर आ रही है । गम्भीर बीमार मरीज और सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति को समय पर एम्बुलेंस न मिलने पर लोगो को दिक्कतो का सामना करना पड़ रहा है । मरीज के तीमारदार अधिक पैसे चुकाकर वाहन किराये पर लेने को मजबूर हो रहे है। कोरोना महामारी के बीच एंबुलेंस कर्मचारियों ने लगातार कड़ी मेहनत की । वही देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और प्रदेश के सीएम योगी ने स्वास्थ्य कर्मचारियों को कोरोना योद्धा से संबोधित किया। लेकिन एम्बुलेंस कर्मचारियों को सरकार से कोई लाभ नही मिला है । एम्बुलेंस कर्मचारियों ने सरकार से समायोजन करने के साथ ही 6 सूत्रीय मांगों को लेकर जिला अस्पताल में एम्बुलेंस खड़ी करके चक्का जाम कर दिया है और वही धरना दे रहे है। वही जनपद कानपुर देहात में सैकड़ों की संख्या में एम्बुलेंस कर्मचारी एंबुलेंस खड़ी करके धरने पर हैं।
वही एंबुलेंस कर्मचारियो का कहना है कि एंबुलेंस संघ के कर्मचारियों का समायोजन किया जाए , ठेकेदारी प्रथा को खत्म किया जाए , कोरोना काल मे शाहिद हुए कर्मचारियों के आश्रितों को 50 लाख का बीमा किया जाए , कर्मचारियों को मंहगाई भत्ता दिए जाएं , प्रशिक्षण के नाम पर पैसा न लिया जाये ,  समस्याओं का तत्काल सरकार अथवा कंपनी निवारण करें । अगर सरकार एम्बुलेंस संगठन की बाते नही मांगेगा तो एम्बुलेंस संगठन धरने पर बैठेगा जिसके लिये सरकार और कम्पनी जिम्मेदार होगी । वही एम्बुलेंस कर्मचारियों ने बताया कि मरीजो को ध्यान में रखकर हर तहसील पर एक एक एम्बुलेंस को रोक कर रखा है । 


No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।