रक्षाबंधन 2021: इस बार कब बंधेगी राखी? क्या है शुभ मुहूर्त, क्या है भद्रा की स्थिति - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Friday, 20 August 2021

रक्षाबंधन 2021: इस बार कब बंधेगी राखी? क्या है शुभ मुहूर्त, क्या है भद्रा की स्थिति

कैलाश सिंह विकास वाराणसी

रक्षाबंधन 2021: इस बार कब बंधेगी राखी? क्या है शुभ मुहूर्त, क्या है भद्रा की स्थिति 
 

Raksha Bandhan 2021 Date : साल 2021 में रक्षाबंधन का शुभ दिन कब आ रहा है आइए जानते  हैं....  

इस साल राखी का पर्व 22 अगस्त, रविवार को है....इस साल पूर्णिमा तिथि 21 अगस्त शाम से शुरू होगी और 22 अगस्त को सर्योदय पर पूर्णिमा रहेगी... इसलिए 22 अगस्त को ही रक्षाबंधन का त्योहार धूमधाम के साथ मनाया जाएगा...

रक्षा बंधन 2021 कब है राखी बांधने का शुभ मुहूर्त

शुभ समय: – 22 अगस्त, रविवार सुबह 05:50 बजे से शाम 06:03 बजे तक...

रक्षा बंधन के लिए दोपहर का सबसे अच्छा समय: – 01:44 बजे से 04:23 बजे तक.

इस वर्ष रक्षा बंधन के त्योहार पर शोभन योग बन रहा है और इस वर्ष राखी बांधने के लिए 12 घंटे का मुहूर्त है...

2021 में रक्षा बंधन 22 अगस्त को है। पूर्णिमा की तिथि 21 अगस्त शाम से शुरू हो जाएगी और अगले दिन राखी का पर्व धूमधाम से मनाया जाएगा। 22 अगस्त को रविवार है। 

रक्षा बंधन तिथि: - 22 अगस्त 2021, रविवार

पूर्णिमा तिथि प्रारंभ: - 21 अगस्त 2021,  शाम 03:45 मिनट

पूर्णिमा तिथि समापन: - 22 अगस्त 2021, शाम 05:58 मिनट

शुभ मुहूर्त: - सुबह 05:50 मिनट से शाम 06:03 मिनट

रक्षा बंधन की समयावधि: - 12 घंटे 11 मिनट

रक्षा बंधन के लिए दोपहर में समय: - 01:44  से 04:23 मिनट तक

अभिजीत मुहूर्त: - दोपहर 12:04 से 12:58 मिनट तक

अमृत काल: - सुबह 09:34 से 11:07 तक

ब्रह्म मुहूर्त: - 04:33 से 05:21 तक

भद्रा काल: - 23 अगस्त, 2021 सुबह 05:34 से 06:12 तक

 
राखी भद्राकाल और राहुकाल में नहीं बांधी जाती है क्योंकि इन काल में शुभ कार्य वर्जित माना जाता हैं। इस साल भद्रा  का साया राखी पर नहीं है...भद्रा काल 23 अगस्त, 2021 सुबह 05:34 से 06:12 तक होगा और 22 अगस्त को सारे दिन राखी बंधेगी...

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।