संदिग्ध परिस्थितियों में बबूल के पेड़ से लटकता मिला युवक का शव - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Monday, 16 August 2021

संदिग्ध परिस्थितियों में बबूल के पेड़ से लटकता मिला युवक का शव

राकेश सिंह गोंडा 


संदिग्ध परिस्थितियों में बबूल के पेड़ से लटकता मिला युवक का शव


गोंडा। परसपुर के गजसिंहपुर गांव में संदिग्ध परिस्थितियों में युवक का शव बबूल के पेड़ से लटकता हुआ मिला है। पत्नी का आरोप है कि उधारी के पैसे न चुकता कर पाने के कारण तनाव में आकर पति ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया है। फिलहाल, पुलिस कई अन्य बिंदुओं पर मामले की पड़ताल कर रही है।
तीन महीने के भीतर दूसरी बार टूटा दुखों का पहाड़ गजसिंहपुर गांव के प्रधान पति शेर बहादुर सिंह का कहना है कि तीन माह पहले मृतक राम अधीन के भाई राम सूरत ने भी आत्महत्या कर ली थी। उसकी जमीन को कुछ लोगों ने बैनामा करा लिया था। इससे आहत होकर उसने जान दे दी थी।

गजसिंहपुर गांव निवासी रामअधीन शनिवार की शाम को खाना खाने के बाद सो गए थे। रविवार की सुबह वह अपने बिस्तर से गायब थे। स्वजनों ने उनकी खोजबीन शुरू की। कुछ देर बाद घर से करीब 50 मीटर की दूरी पर ग्रामीणों ने टीका बगिया में बबूल के पेड़ से उनका शव देखा। पुलिस ने मौके पर ही डाग स्क्वायड व अन्य एजेंसियों को बुला लिया। घंटों तक छानबीन की गई लेकिन, कोई सुराग नहीं लग सका। पत्नी फूलाकला का आरोप है कि गांव के ही एक व्यक्ति से उन्होंने उधार के तौर पर कुछ रुपये लिए थे। वह व्यक्ति उस पैसे को मांग रहा था। इससे वह परेशान रहते थे। पत्नी का कहना है कि शनिवार की रात वह काफी बेचैन थे। रात में 11 बजे तक वह जग रहे थे। बार-बार उठकर बैठ रहे थे। उसने पूछा भी लेकिन, उन्होंने कुछ नहीं बताया। कुछ देर बाद वह सो गई, इसके बाद जब उसकी नींद खुली तो उसके पति बिस्तर पर नहीं थे। खोजबीन के बाद उनका शव पेड़ से लटकता हुआ मिला। उसका कहना है कि पति ने परेशान होकर आत्महत्या कर ली है। सीओ मुन्ना उपाध्याय का कहना है कि पुलिस मौके पर है। कई बिंदुओं पर जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट काफी कुछ स्थिति स्पष्ट करेगी।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।