ऐश्वर्या श्रीवास्तव ने भाजपा सरकार द्वारा कायस्थ जाति को पिछडी जाति मे सम्मिलित किये जाने के विरोध मे ज्ञापन सौंपा - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Friday, 13 August 2021

ऐश्वर्या श्रीवास्तव ने भाजपा सरकार द्वारा कायस्थ जाति को पिछडी जाति मे सम्मिलित किये जाने के विरोध मे ज्ञापन सौंपा

कैलाश सिंह विकास वाराणसी

 ऐश्वर्या श्रीवास्तव ने भाजपा सरकार द्वारा कायस्थ जाति को पिछडी जाति मे सम्मिलित किये जाने के विरोध मे ज्ञापन सौंपा 

वाराणसी। आज दिनांक 13/8/2021 को ऐश्वर्या श्रीवास्तव युवा सपा नेत्री/समाजसेवी के नेतृत्व मे कायस्थ समाज के लोगों के साथ श्रीमान जिलाधिकारी महोदय वाराणसी को कलेक्ट्रेट परिसर वाराणसी मे भाजपा सरकार द्वारा कायस्थ जाति को पिछडी जाति मे सम्मिलित किये जाने के विरोध मे ज्ञापन सौंपा गया कि वर्त्तमान समय मे कायस्थ समाज को पिछडी जाति मे सम्मिलित करने की आवश्यकता नही है कायस्थ समाज को आरक्षण जैसे सुविधाओं की आवश्यकता नही है।
स्वामी विवेकानंद जी को अपना आदर्श मानने वाला कायस्थ समाज अपनी बुद्धि और कलम के ताकत से आज ही नही बल्कि कई वर्ष पहले से आज तक अपनी काबिलियत हर क्षेत्र मे सिद्ध करता आया है और आगे भी करता रहेगा।चुनावी फायदा के तहत वर्तमान भाजपा सरकार द्वारा कायस्थ समाज को अन्य पिछड़ा वर्ग मे ढकलने की साजिश रची जा रही है उसे कायस्थ समाज कभी स्वीकार नहीं करेगा अगर देना ही है तो सभी वर्ग को सामान्य अधिकार दिया जाये।कायस्थ समाज अपने मान सम्मान से कोई समझौता नही करेगा कायस्थ समाज भगवान श्री चित्रगुप्त जी महाराज की संतान है और स्वामी विवेकानंद जी नेता जी सुभाष चन्द्र बोस भारत वर्ष के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेन्द्र प्रसाद जी व भारत वर्ष के द्वितीय प्रधानमंत्री स्व लालबहादुर शास्त्री जी जैसे अनन्त पूर्वज कायस्थ समाज से ही है। भाजपा सरकार द्वारा यदि कायस्थ समाज को पिछडी जाति मे सम्मिलित करने के इस फैसले से हमारे पूर्वजों का भी अपमान हो रहा है।जिसके नाते यह माँग की गई कि कायस्थ समाज को पिछडी जाति मे सम्मिलित न किया जाए और यदि भाजपा सरकार कायस्थ समाज के सम्मान के साथ छेड़छाड़ करती है तो हम सभी कायस्थ समाज के लोग वॄहद धरना प्रदर्शन एवं आदलोन करने के लिए बाध्य होंगे। ज्ञापन देने मे प्रमुख रूप से राहुल श्रीवास्तव अधिवक्ता प्रदेश सचिव अधिवक्ता सभा मनीष श्रीवास्तव ज्ञानु श्रीवास्तव अमन श्रीवास्तव शशाक श्रीवास्तव रमन श्रीवास्तव

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।