संपादक माताफेर सिंह दीपक को ग्रामीण पत्रकार संघ ने किया सम्मानित - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Saturday, 21 August 2021

संपादक माताफेर सिंह दीपक को ग्रामीण पत्रकार संघ ने किया सम्मानित

कैलाश सिंह विकास वाराणसी

संपादक माताफेर सिंह दीपक को ग्रामीण पत्रकार संघ ने किया सम्मानित

भादर/अमेठी। हिंदी साप्ताहिक पेपर के वरिष्ठ संपादक को ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के संरक्षक द्वारा सम्मानित किया गया तथा उन्हें प्रतीक चिन्ह भेंट किया ।
अमेठी जनपद के विकासखंड भादर के नगरडीह गांव के निवासी दीपक के नाम से प्रसिध्द"भेंटवार्ता"हिंदी साप्ताहिक लखनऊ एवं सुलतानपुर हिंदी दैनिक"भेंटवार्ता"सुल्तानपुर के प्रधान संपादक माताफेर सिंह दीपक,मुख्य संरक्षक ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन उ.प्र.शाखा जनपद अमेठी  के संरक्षक  राजेंद्र पांडे ने उनके घर जाकर शिष्टाचार मुलाकात की तथा शिष्टाचार सम्मान भेंट के रूप में उनको मास्क तथा बाबू बालेश्वर जी की प्रतिमा भेंट की तथा उनके स्वास्थ्य लाभ के लिए ईश्वर से प्रार्थना की।
 आपको बताते चलें भेंटवार्ता समाचार पत्र का उदय ही गरीब ,दलित,वंचित ,पिछड़े बेसहारा" वअसहाय लोगों को न्याय दिलाने के लिए तथा उनकी आवाज को प्रशासन तक पहुंचाने के लिए किया गया था ।ग्रामीण क्षेत्रों में उनके द्वारा कई पत्रकारों का जन्म हुआ जो आजकल प्रतिष्ठित समाचार पत्र में पत्रकार अथवा संपादक के रूप में प्रिंट तथा इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में स्वच्छ व निर्भीक लेखनी के माध्यम से अपना अभूतपूर्व योगदान दे रहे हैं । भेंटवार्ता संपादक पिछले काफी समय से बीमार चल रहे थे। जिनका आज भी लखनऊ पीजीआई से उपचार चल रहा है ।उनके नाम से क्षेत्र के भ्रष्टाचारी व दमनकारी लोग अपना हाथ पीछे खींच लेते थे ।अपनी तेज व सटीक लेखनी के माध्यम से हो पुलिस प्रशासन को नाकों चने चबाने के लिए मजबूर कर देते थे ।गरीबों व दलितों की आवाज उठाने के लिए उनकी जैसी निष्पक्ष लेखनी की आज समाज में आवश्यकता है ।जिससे स्वच्छ व सभ्य समाज का निर्माण हो ।
इस अवसर पर  छायाकार/पत्रकार आयुष सिंह उर्फ जतिन सिंह,अमन कश्यप,पवन कश्यप,प्रशान्त दूबे, साक्षी कश्यप, दीपक जी की धर्मपत्नी श्रीमती क‌ष्णा सिंह तथा पुत्री अन्तिमा सिंह आदि मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।