पीवी सिंधू ने सभी भारतीयों का मान बढ़ाया - विराज सागर दास - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Monday, 2 August 2021

पीवी सिंधू ने सभी भारतीयों का मान बढ़ाया - विराज सागर दास

लखनऊ ब्यूरो

पीवी सिंधू ने सभी भारतीयों का मान बढ़ाया - विराज सागर दास

लखनऊ। उत्तर प्रदेश ओलंपिक एसोसिएशन के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश बैडमिंटन एसोसिएशन के चेयरमैन व बैडमिंटन एसोसिएशन ऑफ इंडिया के उपाध्यक्ष व  अखिलेश दास फाउंडेशन के प्रमुख  विराज सागर दास ने टोक्यो ओलंपिक में बैडमिंटन में कांस्य पदक विजेता पीवी सिंधु को बधाई देते हुए कहा कि पीवी सिंधू पर हमें गर्व है। वही भारतीय पुरुष हॉकी टीम के सेमीफाइनल में पहुचने को सुखद बताते हुए हॉकी खिलाड़ियों को भी उन्होंने बधाई दी। उंन्होने कहा कि लगातार दो ओलंपिक में पदक-रियो में रजत व टोक्यो में कांस्य पदक जीतकर उंन्होने भारत का मान बढ़ाया है देश को उनपर गर्व है।

महिला एकल में कांस्य पदक जीतने वाली  सिंधु को  उत्तर प्रदेश ओलंपिक एसोसिएशन व उत्तर प्रदेश बैडमिंटन एसोसिएशन की ओर से बधाई देते हुए श्री विराज सागर दास ने कहा कि ये हमारे लिए गौरव का पल है। सिंधु को इस ऐतिहासिक उपलब्धि के लिए बधाई। उन्होंने ओलंपिक में दो पदक जीतने वाली पहली महिला भारतीय खिलाड़ी और दूसरी भारतीय खिलाड़ी बनकर इतिहास रचा है। 
उन्होंने इसी के साथ कहा कि पुरूष हॉकी टीम ने भी क्वार्टर फाइनल जीतकर उम्मीद बढ़ाई है। इसी के साथ महिला हॉकी टीम के इतिहास रचने की उम्मीद के साथ ये भी विश्वास है कि भारतीय पहलवान भी ओलंपिक में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर देश का गौरव बढ़ाएंगे।

बताते चले कि पीवी सिंधु ने महिला एकल में कांस्य पदक के मुकाबले में वर्ल्ड नंबर-9 चीन की हे बिंग जियाओ को 21-13, 21-15 से हराया। सिंधु का ओलंपिक खेलों में यह दूसरा पदक हैं। इससे पहले उन्होंने 2016 के रियो ओलंपिक में रजत पदक मेडल जीता था।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।