लेखपाल पर लगा रिश्वतखोरी का आरोप.....रिश्वतखोर लेखपाल पर कार्यवाही ना होने के विरोध में ग्रामीणों ने नेशनल हाइवे पर किया प्रदर्शन - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News

आज का Tahkikat

Monday, 2 August 2021

लेखपाल पर लगा रिश्वतखोरी का आरोप.....रिश्वतखोर लेखपाल पर कार्यवाही ना होने के विरोध में ग्रामीणों ने नेशनल हाइवे पर किया प्रदर्शन

 रिपोर्ट  --अरविन्द शर्मा /कानपुर देहात  / 

लेखपाल पर लगा रिश्वतखोरी का आरोप.....रिश्वतखोर लेखपाल पर कार्यवाही ना होने के विरोध में ग्रामीणों ने नेशनल हाइवे पर किया प्रदर्शन

कानपुर देहात। उत्तर प्रदेश सरकार भले ही भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने की पुरजोर कोशिश कर रही हो लेकिन बावजूद इसके कुछ सरकारी कर्मचारी भ्रष्टाचार और रिश्वतखोरी से बाज नहीं आ रहे ताजा मामला कानपुर देहात का है जहां ग्रामीणों ने लेखपाल पर रिश्वतखोरी का आरोप लगाया है ग्रामीणों ने रिश्वतखोर लेखपाल पर कार्यवाही ना होने के विरोध में नेशनल हाइवे पर प्रदर्शन भी किया
  मामला कानपुर देहात की भोगनीपुर तहसील क्षेत्र के मांवर गांव का है जहां के ग्रामीणों ने लेखपाल पर रिश्वतखोरी का आरोप लगाया है। दर्जनों ग्रामीणों ने लेखपाल की रिश्वतखोरी से तंग आकर नेशनल हाईवे पर प्रदर्शन किया, साथ ही लेखपाल चोर है के नारे भी लगाए। ग्रामीणों का कहना था कि मावर क्षेत्र का लेखपाल राम आसरे कुरील बिना रिश्वत के पैसे लिए कोई काम नहीं करता। और खतौनी में बारासत के नाम पर भी ग्रामीणों से जमकर वसूली की है। गरीब पात्र लोगों से पट्टा करने के नाम पर भी हजारो रुपए की मांग करता है। ग्रामीणों ने यह भी कहा कि लेखपाल राम आसरे कुरील ग्रामीणों के साथ बदसलूकी और गाली गलौज भी करता है। लेखपाल राम आसरे कुरील ने गरीब किसानों से रिश्वत ले लेकर मावर क्षेत्र में ही जमीन खरीद रखी है। 
 बहरहाल इस बाबत कोई भी प्रशासनिक अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नही है ज़ाहिर है ग्रामीणों के आरोप पर कम से कम लेखपाल की जांच तो होना ही चाहिए थी जिससे हालात साफ हो जाते लेकिन ऐसा नही जिससे प्रशासनिक अधिकारी भी संदेह के दायरे में है ग्रामीणों को उम्मीद अब सूबे के मुखिया से है

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।