मुख्यमंत्री ने वाराणसी में बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र का किया दौरा - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Friday, 13 August 2021

मुख्यमंत्री ने वाराणसी में बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र का किया दौरा

कैलाश सिंह विकास वाराणसी

मुख्यमंत्री ने वाराणसी में बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र का किया दौरा


आपदा की इस घड़ी में सरकार बाढ़ पीड़ितों के साथ खड़ी है-मुख्यमंत्री, योगी आदित्यनाथ

         वाराणसी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने एक दिवसीय वाराणसी दौरे के दौरान गुरुवार को वाराणसी पहुंचे और बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों का तूफानी दौरा कर बाढ़ पीड़ितों को उपलब्ध कराये जा रहे राहत कार्यों का जायजा लिया। मुख्यमंत्री ने राजघाट से एनडीआरएफ के मोटर बोट से पुराना पुल तक दौरा कर गंगा एवं वरुणा के बढ़े जल स्तर को देखा।
        इसके बाद उन्होंने सरैया स्थित आलिया गार्डन में बनाए गए राहत केंद्र में रह रहे बाढ़ पीड़ितों से मुलाकात कर उनका कुशलक्षेम जाना तथा भरोसा दिया कि चिंता की कोई बात नही, आपदा की इस घड़ी में सरकार उनके साथ खड़ी है। हर संभव उनकी मदद की जाएगी। उन्होंने मौके पर अधिकारियों से राहत कार्यों के बारे में जानकारी करते हुए निर्देशित किया कि बाढ़ पीड़ितों की मदद में कोई कोर कसर न छोड़ी जाए। तत्पश्चात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जेपी मेहता इंटर कॉलेज राहत केंद्र पर पहुंचे और यहां पर रह रहे 60 से अधिक बाढ़ प्रभावित परिवारों के लोगों से मुलाकात कर उनकी कुशलक्षेम पूछी और उन्हें मिल रहे राहत सुविधाओं की भी जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने लगभग 37 लोगों को राहत सामग्री की भारी पैकेट एवं आलू, प्याज से भरा छोला भी भेंट की। राहत राशन सामग्री उपलब्ध कराते हुए कई लोगों द्वारा पैकेट न उठा पाने पर मुख्यमंत्री ने कहां की बहुत वजनी बैग है, माता कैसे जाएगा। तो साथ में खड़ा लड़के ने बताया कि वह साथ में है और आसानी से ले जाएगा। उन्होंने जेपी मेहता इंटर कॉलेज परिसर में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के मवेशियों के लिए बनाए गए आश्रय स्थल का भी निरीक्षण किया।
        इसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 20 मिनी पोर्टेबल एवं तीन बड़े फागिंग मशीन कर्मियों के ग्रुप को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।
        इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ पर्यटन मंत्री डॉक्टर नीलकंठ तिवारी, स्टांप मंत्री रविंद्र जायसवाल, कमिश्नर दीपक अग्रवाल, जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा सहित पुलिस के अधिकारी व अन्य अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।