महामती श्री प्राणनाथ जी जन सेवा चिकित्सालय में लगा कैम्प हुईं निशुल्क चिकित्सा - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News

आज का Tahkikat

Sunday, 26 September 2021

महामती श्री प्राणनाथ जी जन सेवा चिकित्सालय में लगा कैम्प हुईं निशुल्क चिकित्सा

कृपा शंकर चौधरी गोरखपुर

महामती श्री प्राणनाथ जी जन सेवा चिकित्सालय में लगा कैम्प हुईं निशुल्क चिकित्सा

गोरखपुर। पिछले रविवार की भांति इस बार भी महामती श्री प्राणनाथ जी जन सेवा चिकित्सालय द्वारा कैम्प लगाकर सैकड़ों लोगों का निःशुल्क उपचार किया गया। जरूरतमंदों को निःशुल्क दवा भी वितरित किया गया। मरीजों को देख रहे डॉ विरेन्द्र चौरसिया ने लोगों को उपचार के साथ बीमारी न होने के उपाय बताए।

गौरतलब है कि देवरिया मार्ग मोतीराम अड्डा स्थित इमली चौराहे पर महामती श्री प्राणनाथ जी जन सेवा चिकित्सालय प्रारंभ किया गया है। इस चिकित्सालय में गरीब लोगों का निःशुल्क उपचार किया जाता है और दवा भी दिया जाता है। गत दिनों की भांति ही इस रविवार को भी कैम्प लगाकर सैकड़ों लोगों को उपचार के बाद दवा वितरण किया गया।

गोरखपुर से आकर लोगों का उपचार करने वाले डाक्टर विरेन्द्र चौरसिया ने बताया कि कैम्प में अधिकांश गठिया, चर्मरोग आदि के मरीज आते हैं और कुछ पथरी और हृदय संबंधी मामले के मरीज भी आते हैं। उन्होंने मरीजों को संयमित जीवन जीने, साफ-सफाई के साथ शुद्ध भोजन करने की सलाह दिया।

चिकित्सालय के कर्ताधर्ता राजकुमार सिंह ने कहा कि यह अस्पताल गरीबों की सेवा हेतु खोला गया है जो अपनी सेवा अनवरत देता रहेगा। आर्थिक व्यवस्था के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि कुछ समाजसेवी और मानव सेवा में विश्वास करने वाले लोगों की मदद से दवा आदि की व्यवस्था हो जाती है। ऐसे दान देने वाले लोगों का नाम चिकित्सालय के दानदाता चार्ट में अंकित कर दिया जाता है। आज के कैम्प में दवा की व्यवस्था सूरज चौरसिया के द्वारा किया गया।
कैम्प के निस्वार्थ सेवा में अमरनाथ,नीलू विश्वकर्मा, गीतांजलि, रूक्मणी निषाद,गुंजा का विषेश सहयोग देखा गया।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।