अखिलेश का काम और योगी का कारनामा बोल रहा है- डॉ.राजपाल कश्यप - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Sunday, 19 September 2021

अखिलेश का काम और योगी का कारनामा बोल रहा है- डॉ.राजपाल कश्यप

रिपोर्ट:- पुनीत मिश्रा फर्रूखाबाद

 अखिलेश का काम और योगी का कारनामा बोल रहा है- डॉ.राजपाल कश्यप


फर्रुखाबाद। भाजपा उत्तर प्रदेश में अन्तिम सांसें गिन रही है। लोकतंत्र के लिए योगी-मोदी की सरकार बहुत बड़ा खतरा है। भाजपा सरकार आरक्षण को खत्म करना चाहती है। अखिलेश यादव का काम बोल रहा है और योगी का कारनामा बोल रहा है।

भाजपा पर यह हमले पत्रकार वार्ता में उत्तर प्रदेश समाजवादी पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के अध्यक्ष डॉ.राजपाल कश्यप ने किए। सौरिख में आयोजित पिछड़ा वर्ग सम्मेलन में जाने से पूर्व डॉ.कश्यप पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस में मीडिया से रूबरू थे। उन्होंने कहा सामाजिक न्याय यात्रा तृतीय चरण में है। तृतीय चरण में शाहजहाँपुर से यह यात्रा प्रारम्भ हुई थी, आज इसका पड़ाव कन्नौज में है। यह यात्रा इसलिए निकालनी पड़ी क्योंकि भाजपा सरकार ने पिछडे वर्ग के साथ अन्याय, आरक्षण में घोटाला जैसे काम किये। सरकारी संस्थानों को प्राइवेट सेक्टर में बेचकर आरक्षण खत्म करने की साजिश रची गयी है। अब भाजपा सरकार आरक्षण में घोटाला कर रही है। उन्होंने कहा शिक्षक भर्ती में योगी सरकार ने बीस हजार सीटों का घोटाला किया गया। बांदा कृषि विश्वविद्यालय में 15 रिक्त पदों में 11 पदों पर एक जाति के लोगों को भर्ती कर लिया गया। कुशीनगर विश्वविद्यालय में मंत्री ने अपने भाई को प्रोफेसर बना दिया। पीजीआई में आरक्षण घोटाला किया, जिसे मैंने सदन में उठाया और उस पर रोक लगी। बैकवर्ड, दलित, आदिवासी, अल्पसंख्यक नौकरियां न पाएं, ऐसी साजिश भाजपा सरकार रच रही है। सामाजिक न्याय यात्रा इन्हीं सबका भण्डाफोड़ करने निकली है। दलितों, पिछड़ों ने भाजपा सरकार बनाई और उन्हीं का भाजपा सरकार ने सबसे ज्यादा नुकसान किया।

डॉ.राजपाल कश्यप ने कहा सपा का चुनावी मुद्दा विकास, आरक्षण, बेरोजगारी, महंगाई, भ्रष्टाचार, संविधान और कानून व्यवस्था है। दो करोड़ नौकरी देने का वायदा भाजपा सरकार ने किया था, लेकिन दो करोड़ बेरोजगार कर दिए। यह किसान की आय दुगनी करने की बात की थी, लेकिन आधी कर दी। पेट्रोल, डीजल, बिजली महंगी कर दी। बीजेपी सरकार में एक भी अस्पताल का शिलान्यास नहीं हुआ। गोरखपुर में 500 बेड का अस्पताल अखिलेश यादव ने बनवाया था। एम्स के लिए अखलेश यादव ने जमीन दी थी और अच्छे से अच्छा बनवाने का प्रयास किया था। उन्होंने कहा अखिलेश यादव का काम बोल रहा है और योगी का कारनामा बोल रहा है। डॉ.कश्यप ने कहा योगी आदित्यनाथ एक्सडेंटल मुख्यमंत्री हैं। विकास से ध्यान हटाने के लिए तरह-तरह के तरीके ढूंढते हैं। जनता ने पिछड़ा मुख्यमंत्री चुनने के लिए वोट दिया था। अगर योगी आदित्यनाथ का चेहरा रहता तो यूपी में बीजेपी की सरकार नहीं आती। कोरोना से ध्यान हटाने के लिए, ऑक्सीजन से हुई मौतों से ध्यान हटाने के लिए, गंगा में बहती लाशों से ध्यान हटाने के लिए, महंगाई से ध्यान हटाने के लिए योगी तरह-तरह के प्रपंच रचेंगे और ऐसी बातें करेंगे, जिनसे जनता उनमें उलझ जाए।
उन्होंने कहा रेलवे बेच दिया, एयरपोर्ट बेच दिया, एलआईसी बेच दी और खेती बेचने जा रहे हैं। पत्रकारों के यह पूछने पर कि बिखरा हुआ पिछड़ा वर्ग कैसे एक हो पाएगा पर कहा कि जनता अखिलेश के पक्ष में लामबंद है। कोई बिखराव नहीं होगा। गुटबंदी के सवाल पर बोले यहां मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री की गुटबंदी चल रही है। सीएम और डिप्टी सीएम में गुटबंदी चल रही है। सपा में कोई गुटबंदी नहीं। जनता ने राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से समझौता कर लिया है और हर सीट पर जनता उनका चेहरा देखकर ही वोट देगी। उन्होंने कहा जनता परेशान है, गौशालाओं में गायें मर रही हैं और खेतों में फसल जानवर चर रहे हैं। ऐसे में जनता पूरी तरह समाजवादी पार्टी के साथ लामबंद है।
डॉ.राजपाल ने कहा कोरोना काल में हजारों लोगों की मौत हो गयी। शिक्षकों की मौत हुई, पत्रकारों की मौत हुई। पैदल चलते-चलते लोग स्वर्ग सिधार गए। सरकार ने किसी की मदद नहीं की। अखिलेश यादव ने एक-एक लाख रुपये देकर लोगों की मदद की। अन्नदाता अपनी मांग को लेकर धरने पर है, उनकी भी बात नहीं सुनी ला रही है। चंद उद्योगपतियों के पास देश गिरवी रखने का प्रयास हो रहा है। एक ईस्ट इण्डिया कंपनी ने देश को गुलाम बना लिया था। इसी रास्ते पर भाजपा सरकार भी चल रही है। अब तो आईएएस भी उद्योग घरानों से बनाए जा रहे हैंं। बाबा साहब के बनाए हुए आरक्षण को खत्म करना, देश को फिर से गुलाम बनाना चाहती है भाजपा सरकार। समाजवादी पार्टी इसे कतई बर्दाश्त नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि 2022 में प्रचण्ड बहुमत के साथ समाजवादी की सरकार बनने जा रही है और अखिलेश यादव मुख्यमंत्री बनेंगे।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।