मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अगुआई में धूमधाम से निकली ज्ञानयज्ञ की शोभायात्रा - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Saturday, 18 September 2021

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अगुआई में धूमधाम से निकली ज्ञानयज्ञ की शोभायात्रा

कृपा शंकर चौधरी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अगुआई में धूमधाम से निकली ज्ञानयज्ञ की शोभायात्रा


गोरखपुर। ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ और ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की पुण्यतिथि समारोह में आयोजित कथा ज्ञानयज्ञ की शुरुआत से पहले शुक्रवार को गोरखनाथ मंदिर में श्रद्धा एवं उल्लास के साथ घंट घड़ियाल एवं बैड बाजे के बीच शोभा यात्रा निकाली गई। स्वयं गोरक्षपीठाधीश्वर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शोभायात्रा की अगुवाई कर रहे थे। शोभायात्रा के बाद अखण्ड ज्योति एवं श्रीमद़्भागवत पोथी को व्यास पीठ पर प्रतिष्ठित किया गया। श्रद्धा के साथ कथाव्यास रामानुजाचार्य स्वामी वासुदेवाचार्य को व्यासपीठ पर विराजमान कराया गया। 
सीएम योगी आदित्यनाथ खराब मौसम के बावजूद 3.30 बजे गोरखनाथ मंदिर पहुंचे। यहां सभी तैयारियां पहले ही कर ली गई थीं। गुरु गोरखनाथ एवं अखण्ड ज्योति का दर्शन करने के बाद उन्होंने एक एक कर सभी यजमानों से मुलाकात की। सभी को कथा की सफलता का आशीर्वाद प्रदान किया। उसके बाद ढोल-नगाड़ों और बैंड बाजा की श्रद्धा से भरी स्वर लहरियों के बीच मुख्यमंत्री गुरु गोरखनाथ के गर्भ गृह में पहुंचे। जहां से मंदिर के पुरोहितों ने अखंड ज्योति और श्रीमद्भागवत की वैदिक मंत्रोच्चार के बीच प्राण-प्रतिष्ठा की। उसके बाद शोभायात्रा शुरू हुई।
कथा से यजमान अवधेश सिंह अपनी पत्नी के साथ सिर पर श्रीमद्भावगत लेकर चल रहे थे। उनके साथ मंदिर के प्रधान पुजारी कमलनाथ अखंड ज्योति लेकर। शोभा यात्रा का नेतृत्व मुख्यमंत्री स्वयं कर रहे थे। शोभायात्रा दिग्विजयनाथ समृति सभागार पहुंची, जहां अखंड ज्योति और ग्रंथ व्यासपीठ पर स्थापित की गई। मुख्यमंत्री और अन्य मंचासीन अन्य महंतों के उदबोधन के बाद स्वामी वासुदेवाचार्य कथा का शुभारंभ किया। कथा का क्रम 23 सितंबर तक प्रतिदिन शाम 3 बजे से 6 बजे तक चलेगा।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।