असलहे से आतंकित कर वृद्ध दंपती से आठ लाख की हुई डकैती,फिंगरप्रिंट व डॉग स्क्वायड टीम ने की जांच पड़ताल - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Sunday, 26 September 2021

असलहे से आतंकित कर वृद्ध दंपती से आठ लाख की हुई डकैती,फिंगरप्रिंट व डॉग स्क्वायड टीम ने की जांच पड़ताल

कैलाश सिंह विकास वाराणसी

असलहे से आतंकित कर वृद्ध दंपती से आठ लाख की हुई डकैती,फिंगरप्रिंट व डॉग स्क्वायड टीम ने की जांच पड़ताल

डकैतों ने हाथ बांधकर मुंह पर टेप लगाया और बाथरूम में उनको बंद कर कमरों को खंगाला 

वाराणसी । रोहनिया थाना क्षेत्र के अखरी चौकी अंतर्गत चंद्रिका नगर कालोनी में रहनेवाले प्रोफेसर हृदय नारायण राय के घर डकैत धावा बोलकर असलहे से आतंकित कर नगदी सहित आठ लाख के गहने लूट ले गए। सूचना पर पहुंची पुलिस जांच में जुटी और मौके पर डॉग स्क्वायड ,फिंगर प्रिंट यूनिट तथा सर्विलांस टीम ने जांच किया। पुलिस के अनुसार पीड़‍ित के पुत्र दिल्ली क्राइम ब्रांच में इंस्पेक्टर के तौर पर कार्यरत हैं। जबकि पिता रिटायर प्रोफेसर हैं। पीड़‍ितों के अनुसार हाथ डकैतों ने हाथ बांधकर मुंह पर टेप लगाया और बाथरूम में उनको बंद कर कमरों को पूरी तरह से खंगाल डाला। इस दौरान डॉग स्क्वायड और फिंगरप्रिंट यूनिट ने मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल की है।मूलरूप से रामपुर, रेवतीपुर गाजीपुर के रहनेवाले हृदय नारायण सिंह हरियाणा रोहतक में प्रोफेसर से रिटायर होने के बाद अखरी में मकान बनाकर 15 साल से पत्नी श्याम देवी के साथ रहते हैं। इनके दो बेटे दिल्ली में रहते हैं जिसमे बड़ा बेटा अमलेश्वर राय क्राइम ब्रांच में इंस्पेक्टर तथा छोटा बिजनेस मैन है। हृदय नारायण राय ने बताया कि शनिवार की रात दो बजे के करीब कुछ लोग आए और असलहा लगाकर कहा बोलना मत। इसके बाद हाथ बांधकर मुंह पर टेप लगा दिया। इसके बाद पत्नी की सोने की चूड़ियां, ब्रेसलेट और चेन के साथ ही कान का टाप्स भी निकाल लिए। फिर लॉकर के बारे में पूछा और कमरे में ले गया जहां आलमारी खंगाला लेकिन कुछ नही मिला। पास में रखी अटैची खोलकर 50 हजार की गड्डी तथा पत्नी की चार चूड़ियां और दो सोने के सिक्के व दो जोड़ी पायल निकाल लिए। पर्स में रखा दो हजार रुपया भी नही छोड़े।
इसके बाद दोनों लोगों को बाथरूम में बंद करके पूजा रूम और घर के अन्य कमरों को खंगालने के बाद भाग गए। प्रो. राय ने बताया कि डर के कारण हमलोग बाथरूम की कुंडी अंदर से बंद कर लिए। साढ़े चार बजे जब लगा कि अब आवाज नही आ रही है तो किसी तरह हाथ खोलकर पत्नी का हाथ खोले और मुंह का टेप हटाये।लुटेरों ने मोबाइल को हटा दिया था लेकिन पत्नी का छोटा मोबाइल था जिससे कंट्रोल रूम और बेटे को घटना की जानकारी दी। प्रोफेसर राय के अनुसार करीब पांच छह की संख्या में आये बदमाशों के हाथ में रिवाल्वर और चाकू थे।
मौके पर इंस्पेक्टर रोहनिया विमल कुमार मिश्र व चौकी प्रभारी उमेश राय पहुंचे जिन्होंने देखा कि पीछे के कमरे का ग्रिल तोड़कर अंदर आये थे और उम्मीद है उसी रास्ते वापस चले गए। डॉग स्क्वायड की टीम बाईपास तक गई और उसके बाद वापस लौट आयी। पड़ोस में लगे सीसीटीवी कैमरे को भी पुलिस खंगाल रही है। डकैती की सूचना सुनकर आसपास और रिश्तेदार भी पहुंच गए उन्होंने कहा कि संयोग अच्छा था कि सिर्फ गहने ही लूटे नहीं तो कोई बड़ी घटना हो सकती थी। मकान के किनारे दो लड़के भी रहते हैं लेकिन वो सो रहे थे उन्हें घटना की जानकरी नही हो पायी।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।