उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या का कानपुर में हुआ आगमन - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News

आज का Tahkikat

Sunday, 5 September 2021

उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या का कानपुर में हुआ आगमन

रिपोर्ट:अरविन्द शर्मा

उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या का कानपुर में हुआ आगमन

 कानपुर। गोविंद नगर विधानसभा के अंतर्गत डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने पनकी दुर्गा पार्क में रिमोट द्वारा अरमापुर नहर पुल जिसका नाम गणेश शंकर विद्यार्थी सेतु पुल रखा 

उसका उद्घाटन  रिमोट कंट्रोल द्वारा किया गया वहीं पर डिप्टी केशव प्रसाद मौर्य गोविंद नगर विधानसभा सुरेंद्र मैथानी विधायक अभिजीत सिंह सांगा बिठूर विधायक

 प्रमिला पांडे कानपुर की मेयर वा भगवती शरण विधायक बिल्लौर अरुण पाठक एमएलसी पनकी क्षेत्र की पनकी मंडल अध्यक्ष चंद्रमणि चौबे एवं क्षेत्र की जनता ने केशव प्रसाद मौर्य का का स्वागत किया वहीं पर केशव प्रसाद मौर्या ने कानपुर को एक महा नगर कहते हुए उन्होंने साफ तौर पर कहा उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा नगर अगर.  कोई है तो कानपुर नगर है कानपुर नगर की जनता को  उन्होंने आज 500 करोड़ की सौगात कानपुर नगर वासियों को दी वहीं पर उन्होंने साफ तौर पर कहा कि अगर किसानों और गरीब मध्य वर्गों के लिए भारतीय जनता पार्टी ने सबसे ज्यादा कार्य किया है वहीं पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि हमारी सरकार ने जो 4 वर्षों में कर दिया है वह पिछली सरकारों में 15 वर्ष में भी नहीं हुआ था और निरंतर भारतीय जनता पार्टी मोदी और योगी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी निरंतर विकास करती चली आ रही है पूरे उत्तर प्रदेश में वनवे से लेकर सिक्स वे तक के हाईवे जगह जगह पर बनाए गए वहीं पर आज कानपुर गोविंद नगर विधानसभा में 5 करोड़ की सौगात देते हुए उन्होंने सीधा ऐलान किया की 15 सितंबर से लेकर के 15 अक्टूबर तक पूरे प्रदेश की सड़कों को गड्ढा मुक्त बनाना है और शिक्षक दिवस के उपलक्ष में  भी शिक्षकों को सम्मान करते हुए शिक्षक दिवस की बधाई भी दी

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।