डेंगू का कहर,ले डूबेगा शहर - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Thursday, 2 September 2021

डेंगू का कहर,ले डूबेगा शहर

कैलाश सिंह विकास वाराणसी


डेंगू का कहर,ले डूबेगा शहर

 वाराणसी 2 सितम्बर, शहर में जगह जगह बरसात होने की वजह से इकट्ठा हुए पानी और समय-समय पर दवा का छिड़काव ना होने के कारण तेजी से पनपने के साथ लोगो को अपना शिकार बना रहे खतरनाक एवं जानलेवा डेंगू के मच्छर से बचाव तथा अपनी सुरक्षा अपने हाथ के तहत सावधानी बरतने की अपील, एवं नगर निगम प्रशासन से पूरे वाराणसी शहर में इकट्ठे हुए गंदे पानी के जगह पर दवा का छिड़काव करने की मांग को लेकर सामाजिक संस्था सुबह-ए- बनारस क्लब के बैनर तले संस्था के अध्यक्ष मुकेश जायसवाल एवं (प्रमुख उधमी) समाजसेवी, व्यापारी नेता श्री विजय कपूर के नेतृत्व में मैदागिन स्थित भारतेंदु पार्क में सुबह-सुबह मॉर्निंग वॉक पर आने वाले हजारों लोग के बीच एक जन जागरूकता अभियान चलाया गया। उपरोक्त अवसर पर बोलते हुए संस्था के अध्यक्ष मुकेश जायसवाल एवं (प्रमुख उघमी) समाजसेवी,श्री विजय कपूर  ने कहा कि वाराणसी जनपद में मौसमी बीमारियों के साथ ही खतरनाक रूप से लोगों को अपना शिकार बना रहे डेंगू ने तेजी से अपना पांव पसार लिया है। जिसके कारण अत्यधिक संख्या में लोग इसके शिकार होते जा रहे हैं। बाढ़ और बारिश के कारण कालोनियों व मोहल्लों में जगह-जगह पानी लगा गंदा पानी होने के कारण मच्छरों का लार्वा तेजी से बढ़ रहा है। इन इलाकों में तेजी से बढ़ते बुखार वायरल की समस्या से लोगों में डेंगू का डर बन गया है। और लोग उसके शिकार भी होते जा रहे हैं। शासन - प्रशासन को दोष देने के बजाय अपनी सुरक्षा आप स्वयं करे। सुरक्षा की दृष्टि के मद्देनजर घरों में कहीं भी पानी एकत्रित ना होने दें,खाली डिब्बा या पुराने गमले को हटा दें, इसमें पानी जमा हो सकता है, खास करके मानसून के मौसम में कूलर, खुले नालों, छोटे तालाबों एवं पानी इकट्ठा होने के अन्य स्थानों पर मिट्टी के तेल की कुछ बूंदे डाल दे। इस मौसमी गंभीर बीमारी को गंभीरता पूर्वक लेना जरूरी है क्योंकि इस गंभीर जानलेवा बीमारी के जद में जो भी मरीज आ रहे हैं उनमे जान माल का खतरा प्लेटलेट्स कम होने की वजह से ज्यादा बनता है और अकारण मौत के मुंह में जाने की संभावना बनी रहती है। ऐसे में लोगों में जागरूकता नितांत आवश्यक है।
कार्यक्रम में मुख्य रूप से मुकेश जायसवाल, विजय कपूर, राजन सोनी, नन्द कुमार टोपी वाले, चंद्र शेखर चौधरी, अनिल केशरी, राजेश केसरी, प्रदीप गुप्ता, पंकज पाठक, डॉ मनोज यादव, राजेश श्रीवास्तव, सुनील अहमद खान, सहित कई लोग शामिल थे।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।