कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के उद्घाटन समारोह की तैयारियां जोरों पर - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News

आज का Tahkikat

Wednesday, 29 September 2021

कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के उद्घाटन समारोह की तैयारियां जोरों पर

ईश्वर चंद्र पटेल कुशीनगर


कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के उद्घाटन समारोह की तैयारियां जोरों पर

 डीएम एसपी एवं अन्य उच्चाधिकारियों ने किया एयरपोर्ट का निरीक्षण

 कुशीनगर। जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम व पुलिस अधीक्षक सचिन्द्र पटेल द्वारा आज एयरपोर्ट कुशीनगर का निरीक्षण किया गया और इस संदर्भ में एक बैठक भी आयोजित की गई। उक्त बैठक में एयरपोर्ट के संभावित उदघाटन को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था, तकनीकी व्यवस्था, व उपयुक्त तैयारियों का जायजा लिया गया। तैयारियां को सफल बनायें जाने हेतु उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित किया गया।
बैठक में पुलिस अधीक्षक ने सभी प्रकार की सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की जैसे पुलिस बल की तैनाती, फायर सेफ्टी, सीसीटीवी कैमरा, वाच टावर, ड्रैगन लाइट आदि।
 बीएसएनएल के अधिकारियों एवं सूचना विज्ञान अधिकारी से नेट कनेक्टिविटी, इंटरकॉम फैसिलिटी, यू पी एस आदि के बारे में उचित व्यवस्था के निर्देश दिए गए।
 जिला पंचायती राज अधिकारी को जल जमाव, परिसर में उगी घासों की कटाई उचित समय से कर लिए जाने के निर्देश दिए गए। इस क्रम में जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने उद्घाटन समारोह हेतु एयरपोर्ट परिसर का स्थलीय निरीक्षण भी किया व अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए गए। इस अवसर पर एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया से अनिल कुमार द्विवेदी, संतोष कुमार मौर्य, सिविल हेड नारायण प्रसाद कोरी, इमीग्रेशन अधिकारी प्रताप सिंह यादव, बीएसएनएल के अधिकारियों में एसके गुप्ता एजीएम, वी पी सिंह, दीप मोहन,   उप जिलाधिकारी कसया प्रमोद तिवारी, क्षेत्राधिकारी कसया पीयूष कांत राय, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी मनीष कुमार, जिला पंचायती राज अधिकारी अभय यादव, जिला सूचना अधिकारी कृष्ण कुमार समेत संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।