लोकतंत्र बचाने के लिए भाजपा को हराना आवश्यक है- किरणमय नन्दा - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Friday, 24 September 2021

लोकतंत्र बचाने के लिए भाजपा को हराना आवश्यक है- किरणमय नन्दा

लखनऊ ब्यूरो

लोकतंत्र बचाने के लिए भाजपा को हराना आवश्यक है- किरणमय नन्दा 

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व राज्य सभा सदस्य  किरणमय नन्दा ने जनपद के सभी छः विधान सभाओं के सेक्टर प्रभारियों, ब्लाक अध्यक्षों महासचिवों, विधान सभा अध्यक्षों एवं महासचिवों व उपाध्यक्षों को अलग-अलग मिलकर उ0प्र0 में समाजवादी पार्टी की सरकार 2022 में बने इसके आवश्य निर्देश एवं प्रशिक्षण उपस्थित पदाधिकारियों को दिये।
    उन्होंने कहा कि लोकतंत्र बचाने के लिए भाजपा को हराना आवश्यक है। भाजपा लोकतंत्र समाप्त कर देना चाहती है। भाजपा को उ0प्र0 में सिर्फ समाजवादी पार्टी ही हरा सकती है, इसलिए आप सभी कार्यर्ताओं का दायित्व बड़ा है। आपकी तरफ आमजन आशा भरी निगाहों से देख रहा है, इसलिए एक माहौल बनायें कि उ0प्र0 में सबके विकास सम्मान एवं सबको जोड़ने के लिए श्री अखिलेश यादव को मुख्यमन्त्री बनाने के लिए अपना बेहतर प्रयास करना होगा। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने इस अवसर पर बूथ स्तर से लेकर ऊपर तक के संगठन को मजबूत करने की बारीकियाँ बतायी।
    समीक्षा बैठक में जिलाध्यक्ष इं. वीरेन्द्र यादव, पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष समाजवादी युवजन सभा श्री विकास यादव, जिला महासचव मो0 अरशद खान, विधान सभा अध्यक्ष राकेश त्रिवेदी, कृपाशंकर यादव, जागेश्वर प्रसाद, पवन पटेल, विनय यादव, सुरेन्द्र यादव, ब्लाक अध्यक्ष समर बहादुर यादव, देशराज, उदयराज मौर्य, डा0 सन्तलाल, राकेश यादव, अरूण यादव, करन मौर्य, बाबूलाल पासी, अंजेश मिश्रा, अशोक यादव, भीम सिंह, गुलाम वारिस, छोटेलाल पासी, योगेश्वर चैधरी, आशीष तिवारी, ब्रजेश यादव, आले हसन, अवधेश यादव, मुन्ना यादव, देवराज यादव, जे.पी. यादव आदि प्रमुख

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।