आयुर्वेद भारतीय संस्कृति से जुड़ी हुई है - सुनील ओझा - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Sunday, 26 September 2021

आयुर्वेद भारतीय संस्कृति से जुड़ी हुई है - सुनील ओझा

कैलाश सिंह विकास वाराणसी


आयुर्वेद भारतीय संस्कृति से जुड़ी हुई है - सुनील ओझा

भाजपा के सेवा एवं समर्पण अभियान के तहत निशुल्क आयुर्वेदिक चिकित्सा शिविर का हुआ आयोजन

शिविर में 1500 लोगों ने कराया परीक्षण

वाराणसी 26 सितंबर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के 71वें जन्म दिवस के अवसर पर भाजपा के 20 दिवसीय सेवा और समर्पण अभियान के अंतर्गत रविवार 26 सितंबर को *महानगर अध्यक्ष विद्यासागर राय की अध्यक्षता और महामंत्री अशोक पटेल के कार्यक्रम संयोजन में* चौकाघाट स्थित राजकीय आयुर्वेद महाविद्यालय व चिकित्सालय में निशुल्क आयुर्वेदिक चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया।
 उक्त आयोजन में 1500 लोगों ने अपना परीक्षण कराया तथा निशुल्क आयुर्वेदिक दवाएं भी प्राप्त की।
 उक्त अवसर पर ब्लड शुगर तथा ब्लड प्रेशर की भी जांच की गई।
उक्त अवसर पर मुख्य वक्ता के रूप में भाजपा प्रदेश सह प्रभारी सुनील ओझा  ने कहा कि आयुर्वेद भारतीय संस्कृति से जुड़ी हुई है। इसे समग्र मानव विज्ञान की तरह माना जा सकता है। "प्लांट से लेकर आपकी प्लेट तक, शारीरिक मजबूती से लेकर मानसिक कल्याण तक, आयुर्वेद और पारंपरिक चिकित्सा का प्रभाव अत्यधिक है।'
उन्होने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी भी कहा करते हैं कि ''वर्तमान की स्थिति आयुर्वेद के लिए एकदम सही समय प्रस्तुत करती हैं। पारंपरिक चिकित्सा को वैश्विक स्तर पर प्रसिद्द होने का पूरा मौका देती हैं।" अभी भी इनके प्रति रुझान बढ़ता जा रहा है। विश्व देख रहा है कैसे मॉडर्न और ट्रेडिशनल दोनों ही प्रकार की चिकित्सा आदमी के स्वास्थ्य के लिए आवश्यक हैं। लोगों की इम्युनिटी बढ़ाने में आयुर्वेद के योगदान को लोग पहचान रहे हैं।
श्री ओझा जी ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री मोदी ने वैश्विक स्तर पर आयुर्वेद को हर संभव मदद देने का आश्वासन दिया है। उन्होंने बताया कि कैसे आयुष मिशन, आयुष मेडिसिन को सस्ते और किफायती पैसों पर लोगों तक पहुंचा रहा है।
कार्यक्रम के प्रारंभ में पंडित दीनदयाल उपाध्याय और श्यामा प्रसाद मुखर्जी के तैल चित्र के समक्ष प्रदेश सह प्रभारी सुनील ओझा, काशी क्षेत्र अध्यक्ष महेश श्रीवास्तव, महानगर अध्यक्ष विद्यासागर राय, राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविंद्र जायसवाल, विधायक सौरभ श्रीवास्तव* ने पुष्प अर्पित कर दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम शुभारंभ किया गया।
*शिविर में अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान नई दिल्ली के वरिष्ठ चिकित्सक ने अपनी सेवाएं दी जिनमें* 
प्रोफेसर महेश व्यास, डॉक्टर रमाकांत यादव, डॉक्टर कमल कुमार, डॉ राजाराम महतो, डॉक्टर गरिमा, डॉ राहुल बुरोली थे।

 महानगर मीडिया प्रभारी किशोर कुमार सेठ के अनुसार उक्त अवसर पर

मुख्य रूप से साधना वेदांती, अभिषेक मिश्रा, मधुकर चित्रांश, बृजेश चौरसिया, नीरज जायसवाल, डॉक्टरी हरि केसरी, मधुप सिंह, दिलीप साहनी, डॉ रचना अग्रवाल, कुशाग्र श्रीवास्तव, रितिक मिश्रा, कमलेश सोनकर, सिद्धनाथ शर्मा, रतन कुमार मौर्य, पार्षदगण राजेश यादव चल्लू, चंद्रनाथ मुखर्जी, कुंवर कांत सिंह, राजेश केसरी, संजय गुप्ता आदि उपस्थित रहे।

 

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।