समाजवादी व्यापार सभा, वाराणसी मण्डल व्यापारी सम्मेलन और संगठन समीक्षा बैठक - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Sunday, 19 September 2021

समाजवादी व्यापार सभा, वाराणसी मण्डल व्यापारी सम्मेलन और संगठन समीक्षा बैठक

कैलाश सिंह विकास वाराणसी


समाजवादी व्यापार सभा, वाराणसी मण्डल व्यापारी सम्मेलन और संगठन समीक्षा बैठक

वाराणसी। समाजवादी व्यापार सभा के तत्वाधान में प्रदेशव्यापी मंडलीय सम्मेलन के क्रम में वाराणसी व्यापारी मंडलीय सम्मेलन आज दिनांक 19 सितम्बर, 21 को वाराणसी के सरोजा पैलेश में आयोजित हुआ।
सम्मेलन के मुख्य अतिथि समाजवादी व्यापार सभा के प्रदेश अध्यक्ष व विधायक सहारनपुर श्री संजय गर्ग, उद्घाटनकर्ता व विशिष्ठ अतिथि एमएलसी  आशुतोष सिन्हा एवं मुख्य वक्ता व समाजवादी व्यापार सभा के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पूर्वांचल प्रभारी व मण्डल पर्यवेक्षक  प्रदीप जायसवाल ने भी विचार रखें।
कार्यक्रम में प्रदेश उपाध्यक्ष पवन मनोचा व अजय सूद, प्रदेश सचिव हृदय गुप्ता, राकेश मोदनवाल, प्रदेश कार्यकरिणी सदस्य मुरलीधर जायसवाल के साथ वाराणसी मण्डल प्रभारी जितेन्द्र सेठ ने वाराणसी मण्डल के समस्त जिलों के जिलावार वाराणसी जिलाध्यक्ष चरन दास गुप्ता, वाराणसी महानगर अध्यक्ष राजेश केशरी, जिलाध्यक्ष चन्दौली अशोक गुप्ता, जिलाध्यक्ष गाजीपुर विशाल मद्धेशिया एवं जिलाध्यक्ष जौनपुर संजीव साहू से प्रदेश अध्यक्ष  संजय गर्ग ने वाराणसी मण्डल की समस्त जिलों एवं विधान सभाओं की कार्यकारिणी एवं कमेटी की समीक्षा की।
सम्मेलन की अध्यक्षता प्रतिष्ठित उद्यमी एवं श्री विजय कपूर एवं संचालन डॉ. भारत भूषण यादव (राष्ट्रीय मंच संचालक एवं राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय पुरुस्कार विजेता) के किया।
मुख्य अतिथि समाजवादी व्यापार सभा के प्रदेश अध्यक्ष श्री संजय गर्ग ने कहा कि वर्तमान भाजपा की सरकार का व्यापारियों के प्रति रवैया बहुत ही संवेदनहीन है, उनके सभी फ़ैसले नोटबंदी, विसंगतिपूर्ण जीएसटी और कोरोना काल में अनियंत्रित लॉक डाउन के दौरान का बिजली के फ़िक्स चार्जेज़ एवं व्यापार में लिए गये ऋण के ब्याज माफ़ न करने के कारण, व्यापारी बदहाली के कगार पर है। इंसेक्टर राज से उत्पीड़न बढ़ा है, कानून व्यवस्था की हालात बहुत ख़राब है, प्रशासन और माफिया के गठजोड़ से रंगदारी  वसूली जा रही है। पूर्वांचल क्षेत्र में व्यापार की असीमित संभावनाएं हैं जिनको की भाजपा सरकार ने नज़रंदाज़ किया।
मुख्य वार्ता, समाजवादी व्यापार सभा के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पूर्वांचल प्रभारी प्रदीप जायसवाल ने सम्मेलन में राजनैतिक एवं आर्थिक प्रस्ताव पेश किया, जिसमें कहा कि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री  अखिलेश यादव को व्यापारी हित में निम्नवत मांगों को अवगत करावें तथा आगामी विधान सभा चुनाव-2022 के दृष्टिगत समाजवादी पार्टी द्वारा जारी घोषणा पत्र में शामिल करें...
1-यह कि समाजवादी पार्टी द्वारा विधान सभा चुनाव 2022 के दृष्टिगत पूरे प्रदेश के समस्त जिलों में कम से कम एक टिकट व्यापारी को अवश्य मिलना चाहिए
2-यह कि सांसदों, विधायकों, सरकारी अधिकारियों, कर्मचारियों की तर्ज पर इनकम टैक्स पैड सम्मानित वरिष्ठ व्यापारियों के लिए पेंशन व्यवस्था लागू की जाएं
3-यह कि व्यापारी हित एवं सम्मान के लिए व्यापारी आयोग का गठन किया जाएं जिसमें चेयरमैन को केबिनेट मंत्री का दर्जा मिलें तथा प्रत्येक जिलों से एक-एक व्यापारी को नामित किया जाएं 
4-यह कि व्यापारियों पर बिजली विभाग, वाणिज्य कर, श्रम विभाग, खाद्य सुरक्षा एवं बाँट माप आदि सरकारी विभागों द्वारा दर्ज फर्जी मुकदमा तत्काल हटाया जाएं
5-सरकारी विभाग जैसे- बाँट माप एवं खाद्य व सुरक्षा विभाग द्वारा नियमित मासिक आर्थिक शोषण बंद किया जाएं
6-जीएसटी ऑनलाइन पंजीयन पर सर्वे (भौतिक सत्यापन) के नाम पर मानसिक उत्पीड़न व दोहन एवं आर्थिक शोषण बंद होना चाहिए, जब ऑनलाइन की सुविधा में सभी जरुरी प्रपत्र उपलब्ध करा दिए जाते हैं तो फोटो सही नहीं आदि बहाना करके आर्थिक शोषण करना बंद हो 
7-जटिल एवं कठोर जीएसटी प्रावधानों का सरलीकरण हो 
8-दैनिक उपयोग की घरेलू वस्तुएं के ऑनलाइन मार्केटिंग पर प्रभावी अंकुश लगें, जिससे हमारा पटरी, रेहड़ी, फुटकर दुकानदार भी व्यापार कर अपने और अपने परिवार का ससम्मान जीवन व्यापन कर सकें।

उद्घाटनकर्ता एवं विशिष्ठ अतिथि आशुतोष सिन्हा ने कहा कि देश एवं प्रदेश सरकार की नीतियां आम लोगों के लिए नहीं बल्कि देश के कुछ ख़ास लोगो के लिए टेबल पर बनती है, पेट्रोल, डीजल की गगनचुंबी मूल्य वृद्धि से दैनिक जरूरी उपयोग की वस्तुओं की कीमत बढ़ रही है, देश में महंगाई से जनता त्रस्त है और आरोप व्यापारियों पर मढ़ा जाता है।

विभिन्न व्यापारिक संगठनों के व्यापारियों ने मुख्य अतिथि को केंद्र एवं प्रदेश सरकार के सरकारी विभागों द्वारा व्यापारिक दिक्कतों एवं उसके निवारण हेतु राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश यादव को सम्बोधित सुझाव-पत्र भी दिया, जिसमें मुख्य रूप से सुझाव-पत्र सौंपना (मुख्य अतिथि महोदय को)

1-इलेक्ट्रॉनिक डीलर्स एसोसिएशन- श्री राजेश केशरी, संस्थापक महामंत्री 
2-काशी केराना व्यापार मण्डल- श्री अनिल केशरी, उपाध्यक्ष
3-विशेश्वरगंज व्यापार मण्डल- श्री अशोक गुप्ता, अध्यक्ष 
4-वाराणसी स्वर्णकार व्यापार मण्डल- श्री जितेन्द्र सेठ, अध्यक्ष
5-वाराणसी केराना व्यापार समिति- श्री अशोक कसेरा, महामंत्री 
6-केराना व्यापार मण्डल- श्री अमर नाथ केशरी, महामंत्री
7-महानगर उद्योग व्यापार समिति- श्री प्रेम नाथ मिश्रा अध्यक्ष
आदि ने सुझाव पत्र दिया।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से चित्रकूट मण्डल प्रभारी नंदकिशोर शिवहरे, वाराणसी जिले के सेवापुरी विस अध्यक्ष आर्यन जायसवाल, रोहनियाँ विस अध्यक्ष रविन्द्र पटेल, सपा नेता जुबैर खान, शिवपुर विस अध्यक्ष अरविन्द गुप्ता, अजगरा विस अध्यक्ष गोविन्द गुप्ता, पिंडरा विस अध्यक्ष नन्दलाल गुप्ता, उत्तरी विस अध्यक्ष मनोज पटेल, दक्षिणी विस अध्यक्ष सोहन लाल चौरसिया, कैंट विस अध्यक्ष मो. अशरफ खान, जौनपुर जिले से बदलापुर विस अध्यक्ष राहुल यादव, जफराबाद विस अध्यक्ष लालचंद्र यादव, सदर विस अध्यक्ष अंजुमन सिद्दीकी, मल्हनी विस अध्यक्ष  उमेश यादव, मड़ियाहूं विस अध्यक्ष विपिन यादव, मुंगरा बादशाहपुर विस अध्यक्ष सौदागर अली, गाजीपुर जिले से जखनियां विस अध्यक्ष रामअवतार साहू, सैदपुर विस अध्यक्ष दिनेश सेठ, सदर विस अध्यक्ष, जंगीगंज विस अध्यक्ष विकेश साहू, जहूराबाद विस अध्यक्ष शाश्वत गुप्ता, मोहम्मदाबाद विस अध्यक्ष दीपू गुप्ता, जमानियां विस अध्यक्ष प्रवीण जायसवाल, चन्दौली जिले से मुगलसराय विस अध्यक्ष, सकलडीहा विस अध्यक्ष, सैय्यदराजा विस अध्यक्ष एवं चकिया विस अध्यक्ष थे।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।