वाराणसी में एक बार फिर बदमाशों और पुलिस का आमना-सामना - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Wednesday, 29 September 2021

वाराणसी में एक बार फिर बदमाशों और पुलिस का आमना-सामना

कैलाश सिंह विकास वाराणसी

वाराणसी में एक बार फिर बदमाशों और पुलिस का आमना-सामना 

वाराणसी, चौकाघाट-अंधरापुल मार्ग पर मंगलवार की शाम एक बार फिर बदमाशों और पुलिस का आमना-सामना हो गया। क्राइम ब्रांच प्रभारी अश्वनी पांडेय को मुखबीर से सूचना मिली कि एक इनामी बदमाश किसी घटना को अंजाम देने जा रहा है। सटीक सूचना पर क्राइम ब्रांच प्रभारी अश्वनी पांडेय और सिगरा थाना प्रभारी अनूप शुक्ला और जैतपुरा थाना प्रभारी शशिभूषण राय ने पीछा करके चौकाघाट और सिटी स्टेशन के बीच पुलिस ने घेर लिया। पुलिस को देखते ही बदमाश ने फायर झोंका दिया। जबाबी कार्रवाई में पुलिस ने बदमाश के बाएं पैर में गोली मारकर गिरफ्तार किया। पुलिस ने उसके पास से असलहा भी बरामद किया। सूचना मिलते ही मौके पर अधिकारी पहुंचे और उपचार के लिए बदमाश को मंडलीय अस्पताल कबीरचौरा भर्ती करवाया गया।

घटनास्थल में मौजूद अधिकारी, क्राइम ब्रांच सिगरा और जैतपुरा के पुलिस जवान

20 हजार का इनामी है सिक्की पटेल

पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने बताया कि लक्सा थाना के औरंगाबाद निवासी सिक्की पटेल उर्फ सचिन पटेल के ऊपर 20 हजार का इनाम घोषित था। पुलिस को सूचना मिली थी कि वह किसी घटना को अंजाम देने की फिराक में है। पुलिस ने उसको इनकाउंटर में गिरफ्तार कर ली है, उसके गैंग के बारे में पूछताछ की जा रही है।

हत्या और हत्या के प्रयास में दर्ज है मुकदमासिक्की पटेल के ऊपर अब तक कुल 9 मुकदमें दर्ज है। पहला मुकदमा मारपीट का चेतगंज थाने में वर्ष 2002 में दर्ज हुआ। उसके बाद उसके ऊपर कोतवाली में हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज हुआ। जेल से आने के बाद 2006 में लक्सा में सिक्की ने फिर हत्या का प्रयास किया। वर्ष 2013 में वह फिर कोतवाली में हत्या की घटना को अंजाम दिया। वर्ष 2020 में वह कोतवाली में हत्या का पुनः प्रयास किया। इसी वर्ष वह चेतगंज में हत्या का फिर प्रयास किया है।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।