राज्य विद्युत परिषद जूनियर इंजीनियर संगठन (उ प्र) के समस्तअवर अभियन्ता/प्रोन्नत अभियन्ताओं द्वारा क्रमिक उपवास अनशन सत्याग्रह पूरे जोश के साथ जारी - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News

आज का Tahkikat

Thursday, 23 September 2021

राज्य विद्युत परिषद जूनियर इंजीनियर संगठन (उ प्र) के समस्तअवर अभियन्ता/प्रोन्नत अभियन्ताओं द्वारा क्रमिक उपवास अनशन सत्याग्रह पूरे जोश के साथ जारी

कैलाश सिंह विकास वाराणसी


राज्य विद्युत परिषद जूनियर इंजीनियर संगठन (उ प्र) के समस्तअवर अभियन्ता/प्रोन्नत अभियन्ताओं द्वारा क्रमिक उपवास अनशन सत्याग्रह पूरे जोश के साथ जारी

               
वाराणसी। रा0वि0प0जू0इं0 संगठन, उ0प्र0 वाराणसी क्षेत्र केंद्रीय नेतृत्व के आवाह्न पर अपनी न्यायोचित मांगों, विभागीय कार्यदायित्व निर्वहन एवं बेहतर उपभोक्ता सेवा हेतु न्यूनतम आवयश्क संसाधन तथा संवर्ग के साथ हो रहे उत्पीडनात्मक कार्यवाहियों के विरोध में पूर्व घोषित ध्यानाकर्षण आन्दोलन के चौथे चरण में चारो जनपद यथा जौनपुर, वाराणसी, गाजीपुर एवम चंदौली के समस्त अवर अभियन्ताओं/प्रोन्नत अभियन्ताओं द्वारा मुख्य अभियन्ता कार्यालय के समक्ष क्रमिक उपवास अनशन आज दिनांक 22-09-2021 को भी पूरे जोश के साथ जारी रहा । 
आज दिनांक 22-09-2021 को सुबह 10:00 बजे क्षेत्रीय अध्यक्ष ई. सर्वेश शुक्ला एवम पुर्वांचल के पर्यवेक्षक ई. अवधेश मिश्रा द्वारा दिनांक 21-09-2021 की सुबह 10:00 बजे से उपवास अनशन पर बैठे अनशनकारियों का उपवास तुड़वाया गया तथा 48 घण्टे क्रमिक अनशन के क्रम में उनका स्थान दूसरे अनशनकारियों को माल्यार्पण कर अगले 24 घण्टे के लिए उपवास प्रारम्भ कराया गया । 
*क्षेत्रीय अध्यक्ष ई. सर्वेश शुक्ला* ने अपने सम्बोधन में कहा कि संगठन के समस्त सदस्य अपनी महत्वपूर्ण न्यायोचित मांगों पर विगत दो सप्ताह से शान्ति पूर्ण तरीके से अपना ध्यानकर्षण आन्दोलन कर रहे है इस क्रम में आज प्रदेश के समस्त क्षेत्रों /परियोजनाओं पर समस्त पदाधिकारियो/सदस्यो द्वारा पूरे जोश एवं उत्साह से क्रमिक उपवास सत्याग्रह कर रहे है। ऊर्जा का शीर्ष प्रबंधन संवर्ग की न्यायोचित मांगो पर अन्याय पूर्ण एवं उपेक्षापूर्ण रवैया एवं सदस्यों का उत्पीड़न किये हुए है उन्होने शीर्ष ऊर्जा प्रबन्धन को आगह किया कि अगर अब भी संवर्ग की न्यायोचित मांगों का समाधान न किया गया तो केंद्रीय नेतृत्व के आवाह्न पर किसी भी स्तर तक के *जेल भरो/कार्यबहिष्कार* तक जाने के लिए विवश होगा जिसकी समस्त जिम्मेदारी शीर्ष ऊर्जा प्रबन्धन की होगी। 
सभा को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने  कहा कि ऊर्जा प्रबन्धन द्वारा समय से विद्युत लाइनों एवं तंत्र का प्रिवेन्टीव मेंन्टनेन्स, भण्डार गृहो में मेन्टनेन्स के सामानों की घोर कमी है। पिछले 04 वर्षो में वितरण नेटवर्क लगभग दोगुना हो गया है लेकिन मैन पावर को नियोजित नही किया गया है जिससे इस संवर्ग को बेहतर उपभोक्ता सेवा देने में अत्यन्त कठिनाई हो रही है और मजबूर हो कर आन्दोलन जैसा अप्रीय निर्णय करना पडा है। 

शीर्ष ऊर्जा प्रबन्धन के संवेदनहीन गैर जिम्मेदाराना रवैये के कारण आंदोलन चौथे चरण में आ चुका है एवं सदस्यों द्वारा संसाधनों के अभाव में सरकारी सीयूजी सिम, विडियो क्रान्फ्रेसिंग, एवं विभागीय व्हाटसप ग्रुपों से* संगठन के सदस्य बाहर हो गए है एवं विभागीय कार्यों के सम्पादन हेतु विभाग द्वारा कम्प्यूटर/लैपटाप/डाटा/आपरेटर एवं अन्य आवश्यक संसाधन उपलब्ध न कराये जाने की दशा में झटपट/इ0आर0पी0 पोर्टल पर किय जाने वाले कार्यो से भी आन्दोलन के दौरान विरत रहेगें।

कार्यक्रम की अध्यक्षता क्षेत्रीय अध्यक्ष  ई. सर्वेश शुक्ला एवम संचालन ई. रत्नेश सेठ ने किया तथा कार्यक्रम में प्रमुख रूप से ई. गुलाब प्रजापति, ई निर्भीक भारती, ई. राजकुमार, ई. धर्मेंद्र, ई. पंकज,ई. शक्ति, ई. रोहित, ई. नीरज, ई. प्रदीप, ई. हरिकेश, ई. संतोष, ई. सर्वेश, ई. अभिषेक केशरवानी, राजेश यादव,लालब्रत, जितेंद्र सिंह, शिवेंद्र यादव, उपेंद्र कुमार, सर्वेश विश्वकर्मा आदि उपस्थित रहे ।


No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।