कक्षा आठवीं की बालिका से गैंगरेप , कैमरे के सामने आपबीती सुनाई पीड़िता - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News

आज का Tahkikat

Wednesday, 8 September 2021

कक्षा आठवीं की बालिका से गैंगरेप , कैमरे के सामने आपबीती सुनाई पीड़िता

रिपोर्ट-माइकल भारद्वाज {ब्यूरो चीफ बलिया}

कक्षा आठवीं की बालिका से गैंगरेप , कैमरे के सामने आपबीती सुनाई पीड़िता



बांसडीह/राजपुर- बांसडीह कोतवाली थाना अंतर्गत कक्षा आठवीं की बालिका से एक गैंगरेप का मामला 7 सितंबर 2021 दिन मंगलवार को प्रकाश में आया है।

मीडिया से बात करते हुए पीड़िता पूनम (काल्पनिक नाम) ने बताया कि अचानक रात को 2:00 बजे शौच करने के लिए अपने घर के पीछे जा रही थी ,जाते वक्त अपने दीदी को बोली कि थोड़ा मेरे साथ चलो लेकिन दीदी को नींद आ रही थी इसलिए वह बेख्याल हो गई। इसी बीच मोहल्ले के ही चार लड़कों ने मुझे पकड़ लिया और मेरा मुंह दबाकर लेकर चले गये और मेरे साथ बारी-बारी से गैंगरेप किए। रेप के बाद कहने लगे अगर तुम अपने घर वालों को बताओगी तो वीडियो बनाकर वायरल कर देंगे। साथ ही यह भी बोल रहे थे कि यह पैसा रख लो और अपनी मम्मी से मत कहना। पीड़िता ने सुनील बिंद पुत्र रजिन्दर बिन्द, धनु पुत्र गंगासागर बिंद, भोला पुत्र दिनेश बिंद, आदित्य पुत्र अशोक बिंद का नाम बताया है। चारों आरोपी पीड़िता के मोहल्ले के ही हैं।

इस विषय में हमारे जनपद बलिया ब्यूरो चीफ माइकल भारद्वाज ने बांसडीह थाना प्रभारी निरीक्षक श्री सुनील सिंह से बात किए तो उन्होंने बताया कि हां  यह मामला संज्ञान में है । तहरीर भी पड़ी थी और तहरीर के हिसाब से तत्काल त्वरित कार्रवाई करते हुए चारों लड़के सुनील, धनु ,भोला और आदित्य को जेल भेज दिया गया है।

पुलिस ने इन चार लड़कों के साथ करन पुत्र मुन्ना बिंद तथा दिलीप पुत्र जयकुमार को भी उठाई थी। लेकिन पूछताछ करने के बाद इन्हें छोड़ दिया गया।

सुनने में तो यह भी आ रहा है पूनम अपने प्रेमी करन से  रात को 2:00 बजे मिलने गई थी और दिलीप इन दोनों का सहयोगी था। अगर ऐसा कुछ नहीं था तो पुलिस ने करन और दिलीप को क्यों उठाई थी,? जबकि इस बात की पुष्टि हमारा चैनल  नहीं करता है।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।