भाजपा राज में बेटियों पर बढ़ा अत्याचार, अपराध में टॉप पर यूपी सरकार - सचिन रावत - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News

आज का Tahkikat

Friday, 24 September 2021

भाजपा राज में बेटियों पर बढ़ा अत्याचार, अपराध में टॉप पर यूपी सरकार - सचिन रावत

लखनऊ ब्यूरो

भाजपा राज में बेटियों पर बढ़ा अत्याचार, अपराध में टॉप पर यूपी सरकार - सचिन रावत

 एनसीआरबी के आंकड़े से खुली भाजपा राज के झूठे आंकड़ों की पोल-सचिन रावत 



लखनऊ। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता सचिन रावत ने भाजपा की योगी सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि योगी सरकार बेटियों की तरक्की और सुरक्षा को लेकर फर्जी दावे वाले विज्ञापनों पर टैक्स का करोड़ों रूपये फूंक रही है। जबकि हकीकत यह है कि यूपी में महिलाओं के खिलाफ अपराध लगतार बढ़ रहे है। नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो के ताजा आंकड़े इस बात की पुष्टि कर रहे है, लेकिन योगी सरकार संवेदनहीन होकर झूठ बोल रही है।

श्री रावत ने कहा कि एनसीआरबी के आंकड़ों के मुताबिक, वर्ष 2017 में यूपी में महिलाओं से सम्बंधित अपराध के 56011 मामले दर्ज हुए थे। वर्ष 2018 में यह संख्या 59445 और वर्ष 2019 में 59853 पहुंच गया। यूपी पुलिस के आंकड़ों के मुताबिक, वर्ष 2020 में छेड़खानी के 2441, वर्ष 2019 में 1857, वर्ष 2018 में 1328, वर्ष 2017 में 993 और वर्ष 2016 में छेड़खानी के 609 मामले दर्ज किए गए थे। आंकड़ों पर गौर करें तो वर्ष 2016 और वर्ष 2020 के बीच छेड़खानी की घटनाओं में 300.82 फीसदी इजाफा हुआ। वहीं वर्ष 2019 और 2020 के बीच छेड़खानी की घटनाओं में 31.45 फीसदी इजाफा हुआ।

  श्री रावत ने कहा कि बेटियों के स्कूल पंजीकरण की हीककत यह है कि बेटियां योगी सरकार में स्कूल जाने से परहेज कर रही है। सरकार द्वारा अपराधियों को संरक्षण देने की वजह से पीड़ित बेटियां न्याय न मिलने पर  आत्महत्या के लिए विवश है। अपराधी दुराचार के बाद उनकी हत्या करने में नहीं हिचक रहे है। आज नारी के खिलाफ अपराध में यूपी देश मे टॉप पर विराजमान है। जिस तरह से प्रदेश में बेटियों एवं महिलाओं पर अत्याचार हो रहे है ऐसे में भाजपा की योगी सरकार अपराधियां के साथ नजर आ रही है।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।