आखिरकार गोरखपुर जिलाधिकारी को कहना पड़ा किसानो के साथ अनियमिता नहीं पाप किया गया है - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News

आज का Tahkikat

Monday, 27 September 2021

आखिरकार गोरखपुर जिलाधिकारी को कहना पड़ा किसानो के साथ अनियमिता नहीं पाप किया गया है

कृपा शंकर चौधरी गोरखपुर

आखिरकार गोरखपुर जिलाधिकारी को कहना पड़ा किसानो के साथ अनियमिता नहीं पाप किया गया है

गोरखपुर। पूर्व नियोजित कार्यक्रम के तहत ग्राम सभा झंगहा मे जिलाधिकारी गोरखपुर विजय किरन आनंद ने  चौपाल लगाया गया। चौपाल में अधिकारीयों, कर्मचारीयों की जम कर क्लास लगीं। जिस विभाग मे दिखी अनियमिता उस विभाग के कर्मचारीयों से जबाब तलब किया गया ।

जिलाधिकारी द्वारा लगाए गए चौपाल का जनता ने भी फायदा उठाया एवं खूब जमकर विभाग वार शिकायतों की लाइन लगा डाली। मुख्यत: चकबंदी से सम्बंधित समस्या की बड़ी लाइन लगी रही खास कर चक उड़ान, मालियत की गड़बड़ी, पैमाइस के दौरान कम रकबा नाप कर देना, चक मार्ग, खेल कूद मैदान, बचत जमीन, आदि।

 समस्या जब लोगों के तरफ से आना शुरू हुआ तो जिलाधिकारी महोदय को कहना पड़ा की यहा के किसानो के साथ अनियमिता नहीं पाप किया गया हैं।  जिलाधिकारी ने चकबंदी अधिकारिओ से कहा कि 15दिन के अन्दर सभी समस्या का समाधान गांव मे केम्प लगा कर होना चाहिए अगर नहीं हुआ तो किसी सम्बंधित बिभाग के किसी अधिकारी को बक्सा नहीं जायेगा एवं किसी तरह की लापरवाही बर्दास्त नहीं किया जायेगा।

 ग्राम सभा के बाजार टोला पर पोखरा के जल निकासी हेतु निर्देश दिया गया एवं ग्राम सभा झंगहा मे पोखरा की जमीन व पंचायत भवन की जमीन पर अबैध निर्माण कब्जा किये जमीन पर लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का निर्देश के साथ प्राइमरी पाठशाला मे जल निकासी की व्यवस्था को कहा गया। इसके अलावा सभी विभाग के अधिकारी ,कर्मचारी का गांव मे उपस्थित अनिवार्य किया गया और सभी विभाग की समस्या का समाधान ग्रामीण स्तर पर करने की हिदायत दी गई। 

 सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान पर कोटेदार द्वारा घटतौली की समस्या, ग्राम सभा झगहा मे पोखरे की सफाई मे काम किये मजदूरों की मजदूरी न मिलना मनरेगा मे जबरजस्त घाल मेल करना सभी समस्याओ का त्वरित निवारण करने का निर्देश दिया गया।

 जिलाधिकारी के इस तेवर को देख ग्रामीण बहुत खुश दिखे एवं अपने में बात करते हुए कहा कि वास्तव मे इस तरह का एक्शन अगर अधिकारियों द्वारा किया जाए तो समस्याओ का समाधान बहुत ही आसानी से हो जाएगी। जो गरीब जनता की मेनहत की कमाई अनायास थानो दलालो कचहरी के चक्कर लगाने में चला जाता उससे उस गरीब के पैसे से उसके परिवार का लाभ होगा और उसका आर्थिक विकास होगा।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।