सपा नेता काली शंकर ने उठाया सरैया डिस्टलरी द्वारा भूगर्भ जल दूषित किए जाने का मामला - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Wednesday, 29 September 2021

सपा नेता काली शंकर ने उठाया सरैया डिस्टलरी द्वारा भूगर्भ जल दूषित किए जाने का मामला

कृपा शंकर चौधरी गोरखपुर

सपा नेता काली शंकर ने उठाया सरैया डिस्टलरी द्वारा भूगर्भ जल दूषित किए जाने का मामला

गोरखपुर। समाजवादी पार्टी के नेता काली शंकर द्वारा सरैया डिस्टलरी द्वारा भूगर्भ जल दूषित किए जाने का मामला सामने लाने एवं निवारण करने पर जोर दिया गया। उन्होंने बताया कि ग्राम पंचायत अवधपुर, सरदार नगर स्टेशन, जोधपुर, अयोध्या चक और सरैया में विगत कई वर्षों से पीने योग्य पानी नहीं है जिससे ग्राम वासियों को बहुत ही समस्या का सामना करना पड़ रहा है। जनता से इस अतिआवश्यक मुद्दे पर वर्षों से लड़ई
 लड़ रहे डाक्टर अनिल कुमार पाण्डेय भी साथ दिखे।

काली शंकर ने बताया कि जो भी सरकारी हैंडपंप लगे हुए हैं वहां से पीले रंग का पानी निकल रहा है जबकि प्रदूषण बोर्ड और एनजीटी तथा नमामि गंगे ने डिस्टलरी को बंद करने तथा भारी जुर्माना भी लगाने का आदेश दिया था और बोला था की डिस्टलरी प्रशासन द्वारा प्रत्येक गांव में पानी का ओवरहेड टैंक अपने खर्चे से लगाए जाए तथा सरकारी नलको पर लिखा जाए कि यहां का पानी पीने योग्य नहीं है जबकि आज भी स्थिति यथावत है कोई कार्यवाही शासन प्रशासन द्वारा नहीं की गई।

काली शंकर ने बताया कि आज क्षेत्रीय प्रदूषण अधिकारी पंकज यादव से वार्ता किया जिसपर उन्होंने बताया कि डिस्टलरी को बंद करने का आदेश दे दिया गया है तथा उप जिलाधिकारी चौरी चौरा से भी वार्ता किया और जल्द से जल्द एनजीटी और नमामि गंगे के संस्तुतियों को लागू कराने की मांग किया है जिस पर उपजिलाधिकारी ने कहा है कि कल विस्तृत जानकारी लेकर के हम आदेशित करेंगे।

काली शंकर ने कहा कि यदि जल्द से जल्द गांव वालों के लिए शुद्ध जल की व्यवस्था नहीं किया गया तथा एनजीटी और नमामि गंगे की संस्तुतियों को लागू नहीं किया गया तो सारे गांव के लोग तहसील पर आकर के अपनी आवाज को बुलंद करेंगे।


No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।