केन्द्रीय संचालन समिति ,दिल्ली के अध्यक्ष बने भईया लाल ताम्रकार एवं उपाध्यक्ष - अशोक कसेरा - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Monday, 28 March 2022

केन्द्रीय संचालन समिति ,दिल्ली के अध्यक्ष बने भईया लाल ताम्रकार एवं उपाध्यक्ष - अशोक कसेरा

केन्द्रीय संचालन समिति ,दिल्ली के अध्यक्ष बने भईया लाल ताम्रकार एवं उपाध्यक्ष - अशोक कसेरा 

कैलाश सिंह विकास रिपोर्ट विक्की कुमार 

    अखिल भारतीय हैहय वंशीय केन्द्रीय संचालन समिति का दो दिवसीय कार्यक्रम चिन्तामणि बाग रामकटोरा स्थित कसेरा लान में सम्पन्न हुआ।  जिसमें प्रथम दिवस कार्यकारिणी बैठक एवं नई कार्यकारिणी गठन के लिए नामांकन प्रक्रिया एवं सामाजिक चर्चा हुई। 
समारोह के दूसरे दिन नई कार्यकारिणी गठन के लिए चुनाव सम्पन्न हुआ जिसमें -
राष्ट्रीय अध्यक्ष -भईया लाल ताम्रकार ,भोपाल 
राष्ट्रीय महासचिव -विजय वर्मा ,दिल्ली 
राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष - नन्द लाल वर्मा ,दिल्ली 
राष्ट्रीय उपाध्यक्ष -अशोक कसेरा ,वाराणसी 
निर्विरोध चुने गये।  अन्य राज्यो से भी कई पदाधिकारियों का चुनाव हुआ। 

इस दो दिवसीय समारोह के संयोजक कसेरा महासभा वाराणसी रहा। संस्था के अध्यक्ष रामनारायण कसेरा एवं महामंत्री मनोज सिंह कसेरा ने अन्य राज्यो दिल्ली ,मध्य प्रदेश _बिहार ,छतीसगढ़ ,कर्नाटक से आये सभी स्वजातीय बन्धुओं का माल्यार्पण एवं अंगवस्त्रम के साथ स्वागत किया। 
समाज में उत्कृष्ठ कार्य एवं सेवा करने वालो का सह्स्त्रार्जुन कीर्ति सम्मान 2022 से सम्मानित किया गया। बनारस से अशोक कसेरा ,राजेन्द्र प्रसाद क्षत्रिय ,छेदी साव ,रामनारायण कसेरा ,मनोज सिंह कसेरा को सह्स्त्रार्जुन कीर्ति सम्मान 2022 दिया गया। 
इस अवसर पर कसेरा महासभा के सभी संरक्षक ,पदाधिकारी ,एवं कार्यकारिणी सदस्यों सहित अन्य राज्यो से आये स्वजातीय बन्धु बड़ी संख्या में शामिल हुए। 
मंच संचालन -अशोक कसेरा और घनश्यामदास (अतीन,मिर्जापुर ) ने किया। धन्यवाद ज्ञापन रामनारायण कसेरा और मनोज सिंह कसेरा किया। 
राष्ट्रीय अध्यक्ष भईया लाल ताम्रकार ने कसेरा महासभा का सफल आयोजन के लिए आभार व्यक्त किया। 

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।