तीन बच्चों की माँ को नाबालिग से हुआ प्यार, लोकलाज के भय से दोनो ने लगाई फांसी,फैली सनसनी - Tahkikat News

आज का Tahkikat

Friday, 1 April 2022

तीन बच्चों की माँ को नाबालिग से हुआ प्यार, लोकलाज के भय से दोनो ने लगाई फांसी,फैली सनसनी


तीन बच्चों की माँ को नाबालिग से हुआ प्यार, लोकलाज के भय से दोनो ने लगाई फांसी,फैली सनसनी

राकेश सिंह गोंडा

गोण्डा। थाना क्षेत्र कौड़िया में बुधवार की रात प्रेम प्रसंग में दो लोगों द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या कर लेने की घटना सामने आई है। 

जहां आशनाई पकड़े जाने पर लोक लाज के भय से विवाहिता ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। वहीं प्रेमी युवक ने भी फांसी पर झूलकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।जिसकी सूचना मिलते ही क्षेत्र में सनसनी फैल गई।                                                                                                   

मामला थाना कौड़िया के ग्राम छपरतल्ला का है। जहां प्रेमी युगल ने फांसी लगाकर अपनी जान गंवा दी है। 
प्राप्त जानकारी के अनुसार 18 वर्षीय पिंटू नामक व्यक्ति का उसी गांव की एक विवाहित महिला के साथ प्रेम प्रसंग का मामला चल रहा था। विवाहित महिला की उम्र लगभग 34 वर्ष व उसके तीन बच्चे थे। मृतक पिंटू व मृतक महिला आपस मे दूर के रिश्तेदार थे। 

महिला का पति रोजी रोटी हेतु लखनऊ में काम करता है। महिला के घर पिंटू अक्सर आया जाया करता था। 

इसी दौरान दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ गई। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बुधवार की रात पिंटू अपने प्रेमिका से मिलने उसके घर गया था जहां दोनों एक दूसरे से बात कर रहे थे इतने में विवाहिता के घर वालों ने एक दूसरे को बात करते हुए देख लिया। 
जिस पर घर वालों ने पिंटू को डांट डपटकर घर से बाहर किया। उसके पश्चात लोक लज़्ज़ा के मारे महिला ने उसी रात घर मे फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

 वहीं जब इसकी जानकारी पिंटू को हुई तो पिंटू ने भी खेत मे लगे वृक्ष की डाल पर  रस्सी बांधा और उस पर झूलकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

 दो लोगों की आत्महत्या की खबर मिलते ही पूरे गांव में सनसनी फैल गयी। 
मालूम हो कि मृतका अपने पीछे छोटे-छोटे तीन बच्चों को छोड़ गई है। घटना की सूचना पर पहुंची स्थानीय पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु जिला मुख्यालय भेज दिया।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।